खुर्शीद के जनाजे में पहुंचे लोगों की आंखे हुई नम

0
janaza of khurshid

परवेज अख्तर/सिवान : महाराजगंज रेलवे स्टेशन पर रविवार की संध्या चाकूबाजी में घायल युवक की मौत पटना ले जाने के क्रम में देर रात हो गई। मौत की सूचना मिलने पर परिजनों में कोहराम मच गया। विरोध में लोगों ने सोमवार को बाजार बंद कर दिया। मृत युवक काजी बाजार निवासी बोचा मियां उर्फ इस्लाम मियां का पुत्र मो. खुर्शीद (24) बताया जाता है। वह महाराजगंज सर्किल इंस्पेक्टर का निजी ड्राइवर का काम करता था। सोमवार की सुबह काफी संख्या में लोगों की भीड़ खुर्शीद के दरवाजे पर उमड़ गई। परिजनों के रोने से माहौल पूरी तरह से मातम में तब्दील हो गया था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक खुर्शीद के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को शव सौंप दिया। घटना के संबंध में बताया जाता है कि मो. खुर्शीद लोहे की आलमारी बनाने की फैक्ट्री चलाता था। उसकी फैक्ट्री से पिकअप लाद कर एकमा किसी ग्राहक के यहां आलमारी देने जा रहा था। जैसे ही रेलवे ढाला के समीप पहुंचा पहले से सिहौता निवासी धारा सिंह सहित तीन-चार युवक नशे की हालत में चाकू लेकर उक्त पिकअप चालक के साथ मारपीट करने लगे।janaza इसकी खबर जैसे ही मो. खुर्शीद को मिली उसने बाइक से उक्त जगह पहुंच कर उक्त इसका विरोध किया। तब तक तीनों युवकों ने अचानक मो. खुर्शीद पर ताबड़तोड़ पांच-छह जगह चाकू से हमला कर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया और फरार हो गए। मो. खुर्शीद को लहुलुहान देख अगल-बगल के लोगों ने इसकी सूचना स्थानीय थाने को दी। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने खुर्शीद को पीएचसी लाया, जहां चिकित्सक ने स्थिति गंभीर देखते हुए सदर अस्पताल रेफर कर दिया। सदर अस्पताल से भी चिकित्सकों ने पटना रेफर कर दिया। पटना स्थित एक अस्पताल के गेट पर पहुंचते ही खुर्शीद की मौत हो गई। इसके बाद सोमवार की सुबह परिजन उसे सिवान लेकर वापस आए जहां पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद परिजन को खुर्शीद का शव उन्हें सौंप दिया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
vigyapann
ads