लालू यादव अकेला पापी, बाकी तो सभी साधु-संत

0

पटना: चारा घोटाला के डोरंडा कोषागार मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने लालू यादव को दोषी करार दिया गया है। उन्हें 21 फरवरी को सजा सुनाई जाएगी। इधर, इस मामले को लेकर राजद के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोला है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.16.03 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.24.37 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.13.39 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.18.57 PM

उन्होंने पूछा है कि क्या अकेले लालू यादव ही पापी हैं। वर्ष 2015 में नीतीश और मोदी ने एक दूसरे पर जो गंभीर आरोप लगाए थे, उन आरोपों का क्या हुआ। राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा कि सियासत की दुनिया में लालू यादव अकेला पापी हैं, बाकी तो सभी साधु संत हैं। अभी रांची की अदालत से लालू यादव को सजा मिली। सजा मिलनी ही थी क्योंकि यह अदालत इसी से जुड़े हुए बाकी मामलों में सजा दे चुकी थी। इसलिए यह तय था कि इस मामले में भी सजा मिलेगी ही।

वरिष्ठ राजद नेता ने कहा कि सब जानते हैं कि यह एक ही मामला है जिसको पंच मानकर सुनवाई हो रही है। इसलिए सजा तो प्रत्याशित थी। उन्होंने कहा कि सजा सुनाये जाने के बाद लालू यादव के विरोधी जिस तरह की प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं, जैसे ये सब लोग साधू हैं। हमारे देश में भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई होने या नहीं होने के पीछे भी राजनीतिक मकसद होता है।

शिवानंद तिवारी ने कहा कि 2015 के विधानसभा चुनाव का स्मरण कीजिए। नीतीश कुमार उस चुनाव में महागठबंधन के मुख्यमंत्री के उम्मीदवार के रूप में अभियान चला रहे थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा की ओर से उस चुनाव में अभियान की कमान अपने हाथ में ले ली थी। उस दरमियान उन्होंने नीतीश कुमार पर भ्रष्टाचार और घोटाले के कितने आरोप लगाए थे।