जलने से मां-बेटी की संदिग्ध अवस्था में मौत

0
aag me mahila jhulsi

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के दरौली थाना क्षेत्र के गोपालपुर गांव में बुधवार की रात्रि में सात माह की पुत्री के साथ विवाहिता की जलने से संदिग्ध मौत हो गई। मृतका विवाहिता अमृता देवी (25) गोपालपुर गांव निवासी आकाश कुशवाहा उर्फ टुलु की पत्नी बताई जा रही हैं। गुरुवार को लगभग दस बजे पूर्वाह्न ग्रामीणों द्वारा स्थानीय थाने को मां-बेटी की जलकर मौत होने की सूचना देने पर पुलिस पहुंच मां-बेटी के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सिवान भेज दिया गया। शव का गुरुवार की देर शाम पोस्टमार्टम कराया गया। ग्रामीणों के अनुसार जिस घर में मां बेटी की जलने से मौत हुई है। उस घर में केवल मृतका ही अपनी सात माह की पुत्री के साथ रहती थी। पति आकाश उर्फ टुलु सूरत गुजरात में किसी कंपनी मे हीरा कटींग का कार्य करता हैं। वहीं मृतका के सास-ससुर गांव में ही बने नए मकान में रहते हैं। हालांकि जिस स्थान से पुलिस द्वारा मां-बेटी की मृत हालात के शव को कब्जे में लिया गया है। वहां पास में कुंकिंग चूल्हा हैं। आस-पास मां बेटी के जलने से वहां पड़ी बर्त़न आदि कुछ भी जलने का निशान नहीं है। मृतका की संदिग्ध अवस्था में हुई मौत एक अबूझ पहेली बन कर रह गई। लोगों मे भिन्न-भिन्न तरह की चर्चा व्याप्त है। बताते चलें कि थाना क्षेत्र के मुड़ा गांव निवासी पतरु भगत ने अपने साले की पुत्री अमृता कुमारी को गोद ले वर्ष 2016 मे गोपालपुर गांव निवासी मुंद्रिका भगत के बड़े पुत्र आकाश कुशवाहा उर्फ टुलु से शादी किया था। इस संबंध में थानाध्यक्ष जयनारायण राम ने बताया कि बच्ची सहित विवाहिता की जलने से मौत संदेहास्पद है। पोस्टमार्टम के बाद ही कुछ राज खुलेगा। उन्होंने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है। वहीं खबर प्रेषण तक विवाहिता के मायके से अभी तक कोई आवेदन नहीं मिला था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal