कथित वीडियो को ले सांसद-एमएलसी आमने सामने​

0
sansad

परवेज़ अख्तर/सिवान :- दो दिन पूर्व दुष्कर्म की एक पीड़िता के परिजनों द्वारा आरोपितों को बचाने का आरोप सांसद पर लगाने का कथित वीडियो वायरल किया गया था। जिस पर सांसद ने अपने विरोधियों पर साजिश के तहत परिजनों को बहला फुसला कर इस तरह के आरोप लगाने की बात मीडिया में कही थी। सोमवार को एक बार फिर से सांसद ओमप्रकाश यादव ने मीडिया के समक्ष अपने ऊपर लगे आरोपों को विरोधियों की साजिश बताते हुए कहाकि मुझे एक षड्यंत्र के तहत फंसाने की और मेरी छवि जनता के बीच में खराब करने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने इशारों इशारों में एमएलसी टुन्ना पांडेय पर सोलर लाइट बांटने की बात कही। उन्होंने कहाकि टुन्ना पांडेय के भाई के चुनाव में हार जाने के बाद से ही वह मुझे फंसाने की साजिश में लगे रहते हैं। इसके बाद एमएलसी ने देर शाम एमएलसी टुन्ना पांडेय ने प्रेस वार्ता कर सांसद पर जमकर बोल छोड़े। उन्होंने सार्वजनिक मंच से ही सांसद को अपशब्द तक डाला और कहाकि वह मुझे पार्टी से निष्कासित करने की बात को जनता के बीच जाकर कहते हैं। अगर ऐसा है तो वह पार्टी का लेटर दिखाए अगर पार्टी द्वारा मुझे निष्कासित किए जाने का पत्र जारी किया गया होगा तो राजनीति से सन्यास ले लूंगा। उन्होंने सांसद पर आरोप लगाते हुए कहाकि अपनी जीत के लिए सांसद ने चंदा बाबू के बेटे की हत्या करवा दी। मंच पर चढ़वा कर चंदा बाबू से भाषण दिलवाया। यह पूरा सिवान जान चूका है कि सांसद सिर्फ जातिवाद की राजनीति कर रहे हैं। अगर सिवान में राजनीति के तहत लोगों की हत्याएं हुई हैं तो उसके पीछे कहीं ना कहीं सांसद का षड्यंत्र है। इसकी जांच की जाए। वहीं उन्होंने कहाकि सांसद ने नौतन की घटना में जिस तरह का कार्य किया है वह शर्मसार है। सांसद से ऐसी उम्मीद जनता को नहीं है इसका परिणाम आगामी चुनाव में देखने को मिलेगा।

mlc