सीवान के लकड़ी नबीगंज में फरसा से काटकर पड़ोसियों ने अधेड़ को मार डाला, भूमि विवाद को लेकर हुई थी कहासुनी

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के लकड़ी नबीगंज थाना क्षेत्र के जगतपुरा गांव में सोमवार की देर रात एक अधेड़ की पड़ोसियों ने धारदार हथियार से काट कर हत्या कर दी। मृतक की पहचान लकड़ी नबीगंज थाना क्षेत्र के जगतपुरा गांव निकासी स्व.शंभू शरण तिवारी के 50 वर्षीय पुत्र रंजीत तिवारी के रूप में हुई है। बताया जाता है कि घटना के बाद गंभीर रूप से जख्मी अधेड़ को परिजनों के द्वारा आनन-फानन में इलाज के लिए लाया गया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद परिवार में चीख-पुकार मच गई है। वही लकड़ी नवीगंज थाने के पुलिस मृतक के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सीवान सदर अस्पताल भेज दिया है। घटना के संबंध में मृतक के परिजनों ने बताया कि भूमि विवाद को लेकर उनके पड़ोसियों के साथ काफी दिनों से तनाव चल रहा था। कई बार झगड़ा- मारपीट की घटना घटित हो चुकी है। सोमवार की रात रंजीत तिवारी अपने दरवाजे पर बैठे थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

उससे पहले पड़ोसियों के साथ भूमि विवाद को लेकर कहासुनी हुई थी। इसी की प्रतिशोध में पड़ोसियों ने उनके दरवाजे पर पहुंचकर धारदार हथियार से हमला कर दिया। जिसके बाद रंजीत तिवारी गंभीर रूप से जख्मी हो गए। घटना के बाद वह अचेत पड़ गए। इसके बाद आरोपी वहां से भाग गया। घटना की जानकारी जैसे ही परिजनों को हुई सभी लोग व्याकुल हो उठे। इसके बाद आनन-फानन में पीड़ित को सीवान सदर अस्पताल इलाज के लिए लेकर जाया गया जहां चिकित्सकों ने रास्ते में ही मृत्यु होने की बात बताई।

इधर घटना के संबंध में लकड़ी नबीगंज थाने की पुलिस ने बताया कि भूमि विवाद में एक अधेड़ की धारदार हथियार से काटकर हत्या करने का मामला उनके संज्ञान में है।अभी तक पीड़ित परिजनों के द्वारा शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है। पुलिस मामले में शिकायत दर्ज कराने के लिए मृतक के परिजनों को कहा गया है।पड़ोसियों द्वारा हत्या करने का मामला सामने आया है। शिकायत मिलने के बाद पुलिस इस मामले में जांच करेगी जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।बताते चलें कि अधेड़ के साथ उनके पड़ोसियों का या विवाद काफी वर्षों से चलता रहा था। इस मामले में कई बार पंचायती भी हो चुकी थी लेकिन विवाद का निपटारा नहीं हो पाया। फिलहाल पुलिस जांच के बाद ही पूरे मामले का खुलासा हो पाएगा।