हत्या के विरोध में एनएच जाम कर प्रदर्शन किया

0
htya ke virodh me sadak jaam

परवेज अख्तर/सिवान : ओपी क्षेत्र के मदारपुर में एनएच को ग्रामीणों ने हत्या के विराधे में शुक्रवार को जाम कर दिया। इस दौरान मुख्य मार्ग पर करीब चार घंटे तक टायर जला लोगों ने प्रदर्शन किया। अधिकारियों के समझाने के बाद जाम हटा। मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार को मदारपुर बाजार के समीप एक युवक की मौत हो गई थी, लेकिन इसकी हत्या का कारण बाइक की टक्कर से बताया जा रहा था। मृतक के भाई नौलाख ने हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई है। मिली जानकारी के अनुसार खवासपुर गांव निवासी नसरुद्दीन खान के 22 वर्षीय पुत्र गुफरान खान बाजार से बाइक पर सवार होकर घर लौट रहा था। तभी मछली हाटा के पीछे से एक बाइक पर दो सवार एवं आगे से दो बाइक पर चार सवार अचानक घेर लिए और लोहे के रॉड से उसके सर पर वार कर दिया और फरार हो गए। घटना के दो घंटे बाद परिजनों को सूचना मिली तो खून से लहूलुहान युवक को नबीगंज अस्पताल में भर्ती कराया जहां से चिकित्सकों ने उसकी स्थिति चिंताजनक देख प्राथमिक उपचार के बाद सदर अस्पताल रेफर कर दिया।सदर अस्पताल से भी उसे गोरखपुर रेफर कर दिया गया। इस दौरान रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। गांव में खबर मिलने के बाद कोहराम मच गया। ओपी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।htya ke virodh me युवक की मौत की सूचना पर खवासपुर गांव के ग्रामीण मदारपुर एनएच पहुंच मुख्य मार्ग को जाम कर दिए। थानाध्यक्ष रवींद्रर पाल, अंचलाधिकारी मालती कुमारी, बीडीओ मो. अलाउद्दीन ने सड़क जाम को हटवाया। मृतक के बड़े भाई नौलाख खान ने लखनौरा गांव की तकी मियां के पुत्र मो. आकिब समेत तीन अन्य को नामजद आरोपी बनाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई है। ओपी थानाध्यक्ष ने नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु कार्रवाई तेज कर दी है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

उर्स मेला के दिन गुलफान को सुरक्षा की दी गई थी जिम्मेदारी

चर्चा है कि उक्त घटना का कारण खवासपुर बाजार स्थित आवास बाबा के मजार पर लगने वाले उर्स मेला के दिन भूल एनटीआर के रूप में समिति द्वारा मृतक गुलफान खान को सुरक्षा व्यवस्था के लिए नियुक्त किया गया था। महिलाओं के मीना बाजार में नहीं जाने देने से हमलावर नाराज थे और इसी के बदले की भावना में उक्त घटना का अंजाम दे दिया।