चीफ आफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, सहित 11 सैन्य अफसर व कर्मियों की मौत पर लोगों ने श्रद्धांजलि अर्पित कर मृत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से की प्रार्थना

0

परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
चीफ आफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी सहित 11 सैन्य अफसर व कर्मियों की हेलीकाप्टर दुर्घटना में हृदय विदारक मौत पर सभी वर्ग में शोक है। उनकी मौत पर लोगों ने श्रद्धांजलि अर्पित कर मृत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की। इस दौरान जिले के विभिन्न विद्यालयों सहित अन्य जगहाें पर शोक सभा आयाेजित की गई। जिला अधिवक्ता संघ द्वारा अधिवक्ता संघ भवन में जिला बार कौंसिल के अध्यक्ष पांडेय रामेश्वरी प्रसाद की अध्यक्षता में शोक सभा का आयोजन किया गया। इस दौरान उपस्थित अधिवक्ताओं ने बिपिन रावत सहित अन्य वीर जवानों के निधन पर गहरा दुख प्रकट किया। सभा का संचालन महासचिव प्रेम कुमार सिंह ने की। मौके पर ब्रजमोहन रस्तोगी, सुनील दत्त शुक्ला, अरुण कुमार सिन्हा, जनार्दन प्रसाद सिंह, नागेंद्र सिंह, गणेश राम उर्फ ज्ञानरत्न, राजकुमारी देवी, सुनील कुमार सिंह, बलवंत कुमार, हरिशंकर चौधरी, कमल किशोर सिंह, अंजनी कुमार सिंह, रविंद्र वर्मा, अजय त्रिपाठी सहित सैकड़ों अधिवक्ता उपस्थित थे। वहीं दूसरी ओर वातायन विद्यालय के प्रांगण में कक्षा दसवीं सीबीएसई टर्म वन की परीक्षा प्रारंभ होने से पूर्व दिवंगत सेना प्रमुख विपिन रावत, पत्नी मधुलिका रावत सहित अन्य सैनिकों की आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी गई। मौके पर केंद्रीय विद्यालय महाराजगंज, द वेम्बले इंटरनेशनल स्कूल व वातायन स्कूल के छात्र-छात्राएं व शिक्षक शामिल थे। वहीं गल्ला मंडी स्थित महावीर मंदिर से जेपी चौक तक राष्ट्रीय युवा जन जागरण सेवा संस्थान सिवान के संयोजक सह पूर्व नगर पार्षद देवेंद्र गुप्ता के नेतृत्व में सैकड़ों युवाओं ने कैंडल मार्च निकाला। इस अवसर पर भारत स्काउट गाइड के जिला आयुक्त अभिषेक सिंह, पूर्व वायु सैनिक रामबाबू प्रसाद गुप्ता, अरुण कुमार ओझा, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला कार्यवाह सुनील कुमार सिंह, भाजपा के जिला उपाध्यक्ष शर्मा नंदराम, पूर्व थल सैनिक सूबेदार मेजर अरविंद कुमार सिंह, भाजपा अनुसूचित मोर्चा के नगर अध्यक्ष गोविंद बासु, अर्जुन गुप्ता, संजय कुमार चौरसिया, पवन कुमार, बाबू गुप्ता, राजेश कुमार गुप्ता, दिलीप कुमार गुप्ता, आमोद कुमार, निलेश कुमार, अर्जुन यादव इत्यादि लोग शामिल थे। वहीं भारत स्काउट गाइड के द्वारा हसनपुरा स्थित चंद्र बदन उच्च विद्यालय सह इंटर कालेज उसरी धनौती में सीडीएस जनरल विपिन रावत को श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया। कार्यक्रम के दौरान जिला सचिव कमलेश्वर ओझा द्वारा जिंदगी भी प्यारी है मौत भी बुलाती है, गीत की कड़ी गुनगुना कर विपिन रावत को श्रद्धांजलि दी गई।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

प्रखंडों में भी शोक सभा आयोजित कर दी गई श्रद्धांजलि

तमिलनाडु के नीलगिरि जिले के कुन्नुर में बुधवार को हेलीकाप्टर हादसे में देश के पहले चीफ आफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बिपिन रावत सहित 11 सैन्य अफसर एवं कर्मी की मौत के बाद गुरुवार को जिले के विभिन्न संगठनों द्वारा सभी के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की गई। बड़हरिया के पटेल नगर में सामाजिक कार्यकर्ता नवीन सिंह पटेल ने पुष्प अर्पित कर सैन्य अधिकारियों और जवानों के प्रति संवेदना व्यक्त की और कहाकि यह बहुत बड़ी त्रासदी है। इस क्षति को कभी पूरा नहीं किया जा सकता है। इस दौरान जुनून सिंह पटेल, बबलू सिंह, अरविंद कुमार, रिषि कुमार, छोटन सिंह, महमद उमर, वाहिद खान, अमित कुमार, राहुल राज, सचिंद्र कुमार, अमन सिंह, विजय, राजीव कुमार, राजेश ने अपनी संवेदना प्रकट की। वहीं आंदर प्रखंड के सेंट्रल हाई स्कूल सह इंटर कॉलेज में प्राचार्य निर्मला यादव की अध्यक्षता में गुरुवार को शोक सभा का आयोजन किया गया। शोक सभा में शिक्षिका सरिता कुमारी,प्रिया कुमारी शर्मा,काजल कुमारी,अर्चना देवी ,रवि कुमार शर्मा, राकेश कुमार यादव,अविनाश यादव, अमित कुमार जावेद आलम, इकबाल सर आदि उपस्थित थे। वहीं साइंस इंग्लिश हाई स्कूल आंदर में संचालक मुन्ना यादव की अध्यक्षता में शोक सभा का आयोजन किया गया। मध्य विद्यालय असांव में प्रधानाध्यापक जाहिद हुसैन अंसारी की अध्यक्षता में शोक प्रकट किया गया। मौके पर शिक्षक हीरालाल साह, निरुपमा देवी,लक्ष्मी रानी, सुमिता कुमारी, रानी कुमारी,इंदु कुमारी, रिंकी कुमारी साह,आत्मानन्द पाठक,वशिष्ठ नारायण यादव व तेज प्रताप सिंह आदि छात्र छात्राएं उपस्थित थीं। भगवानपुर प्रखंड में सीडीएस सहित 11 सैन्य अधिकारियों व कर्मियों के हादसे में मौत पर भाजपा जिला मंत्री अवधेश कुमार पांडेय, निवर्तमान प्रमुख रामजी चौधरी, मौलाना नुरूद्दीन अंसारी, राकेश कुमार सिंह , उमाशंकर साहू, त्रिलोकी श्रीवास्तव ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि राष्ट्र को अपूरणीय क्षति हुई है।