आर्केस्ट्रा संचालक का अगवा बेटा चौबीस घंटा बाद घर लौटा

0
kidnapping

परवेज अखतर/सिवान : जिले के रघुनाथपुर थाना क्षेत्र के टारी बाजार से शुक्रवार की सुबह एक आर्केस्ट्रा संचालक के बेटे की शौच कर घर लौटने के बाद अचानक गायब होने की खबर शाम 8.30 एक युवक एमडी साहेब हुसैन द्वारा अपने फेसबुक से अपहरण होने की आशंका शेयर करने से पूरे रघुनाथपुर थाना क्षेत्र चर्चा की विषय बन गया। सुबह शुक्रवार पांच बजे घर के पास से गायब और 24 घंटे बाद घर लौट कर बच्चे द्वारा आपबीती सुनाने पर परिजन पूरी तरह आश्वस्त हो गए कि उसका अपहरण हो गया था।

मालूम हो कि प्रयोजनों के मुताबिक अपहृत

पप्पू कुमार के चाचा राजेंद्र प्रसाद एवं शंभू प्रसाद ने बताया कि शुक्रवार की सुबह पांच बजे दिनेश माली का बड़ा पुत्र पप्पू कुमार (12) शौच कर घर लौट रहा था। तभी बाइक पर सवार दो लोगों ने पूछा कि लकड़ी का दुकान कहां हैं। दुकान दिखाने के बहाने वे बाइक सवार उसे लेते गए और पप्पू का मुंह दाबकर बीच में बैठा लिया और आंख पर पट्टी बांधकर लेकर जाकर किसी अज्ञात जगह पर रख दिया। अपराधी जिस हालत में ले गए 24 घंटा के बाद शनिवार को टारी बाजार के पास पीपरा मुख्य सड़क स्थित भैया बाबा ब्रह्मस्थान पर पौ फटने के पहले छोड़ गए। शनिवार की सुबह में बालक जैसे घर पहुंचा पूरा परिवार को जान में जान आने के साथ घर में खुशिया लौट आई। अपहृत पप्पू के चाचा शंभू प्रसाद ने बताया कि शनिवार को आठ बजे पुलिस को सूचना देने को सोच रहे थे तभी पप्पू घर पहुंचने से परिवार में खुशी लौट आई।

अपहरणकर्ता 24 घंटा में कुछ भी नहीं खिलाए थे

टारी बाजार से शुक्रवार को सुबह एक प्राइवेट स्कूल के चौथा वर्ग की छात्र पप्पू का अपहरण के चौबीस घंटा तक बिना खिलाए रखा था। पप्पू ने अपने परिजनों को पूरा वृतांत बताया कि परिवार के आंखें भर आई।

क्या अपहरणकर्ता के निशाने पर दूसरा था

टारी बाजार में शुक्रवार को हुई एक अपहरण की घटना के बाद क्षेत्र के चर्चा की विषय बना हुआ है कि शायद दिनेश माली के बेटे को अगवा के बदले दूसरे का अपहरण करने वाले थे। गलत से पप्पू का अपहरण कर लिया इस कारण 24 घंटे में उसे रिहा कर दिया।