मजदूर की शव बरामद मामले में दो पक्ष आमने-सामने पुलिस करती रही कैंप

0
Dead body in a mortuary

परवेज़ अख्तर/सिवान:- जिले के दरौंदा थाना क्षेत्र के करसौत गांव में गुरुवार की देर शाम भाकपा माले समर्थक और ग्रामीण के बीच जमकर मारपीट हुई. गांव में तनाव कायम है. इस संबंध में बताया जाता है कि थाना क्षेत्र के करसौत गांव निवासी 32 वर्षीय विनोद राम की शव 20 अक्टूबर की सुबह गांव के ही बगीचे के समीप पाई गई थी. हालांकि पुलिस की माने तो पुलिस का कहना है कि विनोद की मृत्यु सड़क हादसे में हुई है. वहीं दूसरी तरफ भाकपा माले और मृतक के परिजनों की मानें तो विनोद राम की हत्या सोची समझी साजिश के तहत की गई थी. विनोद राम मजदूरी कर पैसे कमाता था उसी पैसे को लेने गया था तभी उसकी हत्या कर दी गई. इसी बात को लेकर गुरुवार को पसिवड बाजार पर माले ने प्रतिवाद सभा रखा था. गुरुवार की देर शाम करसौत गांव में सैकड़ों माले समर्थकों ने पूरे गांव में आक्रोश मार्च निकाली. तभी माले समर्थक व ग्रामीण आमने-सामने हो गए. कुछ लोगों के बीच हाथापाई झड़प भी हुई. दोनों तरफ से ईंट पत्थर लाठी-डंडे चले. घटना की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष अनिल कुमार सिंह दल बल के साथ मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाने-बुझाने की कोशिश की. इधर बिगड़ते माहौल को देख गुरुवार की पूरी रात थाने के पुलिस पूरे गांव में कैंप करती रही. थानाध्यक्ष ने बताया कि मारपीट की घटना में अगर किसी पक्ष से आवेदन मिलती है तो आवश्यक कार्रवाई की जायेगी.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal