प्राण प्रतिष्ठा महायज्ञ को निकाली गई कलश यात्रा

0
kalash yatra

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के दारौंदा प्रखंड के करसौत गांव में हनुमत प्राण प्रतिष्ठा को ले मंगलवार को हाथी, घोड़े बैंड बाजे के साथ भव्य कलश यात्रा निकाली गई। कलश यात्रा की शुरुआत गांव के काली स्थान से हुई। कलश यात्रा में 51 सौ कन्याओं ने भाग लिया। काशी से पधारे यज्ञाचार्य वेद नारायण पांडेय के वैदिक मंत्रोच्चार के बीच निकली कलश यात्रा कई गांवों से होकर गुजरी। कलश यात्रा को ले भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा। कलश यात्रा करसौत, कंगाली छपरा, भाउ छपरा,बोधा छपरा, पसीवड़, पिनर्थु कला एवं पिनर्थु खुर्द गांव से होकर गुजरी। इस दौरान पूरे वातावरण भक्तिमय हो गया था। कलश यात्रियों के स्वागत में राह में रंगोली बनाई गई थी। स्वयं सेवक द्वारा जगह-जगह प्याऊ की व्यवस्था की गई। बुधवार को पंचांग पूजन, मंडप प्रवेश, देवी पूजन,अग्नि स्थापना, जलाधिवास एवं आरती होगी। गुरुवार को देवताओं का पूजन,समस्त आधिवास आरती, शुक्रवार को प्रातः कालीन पूजन, महास्नान, नगर परिक्रमा,आरती एवं शय्याधिवास तथा शनिवार को प्रातः कालीन पूजन, अचल प्राण प्रतिष्ठा एवं पूर्णाहुति के साथ विशाल भंडारा आयोजित किया जाएगा। मौके पर मुखिया सह प्रखंड मुखिया संघ के अध्यक्ष रामकृष्ण सिंह उर्फ काका, सरपंच हरिशंकर सिंह, उप मुखिया पवन कुमार मांझी, धनंजय सिंह, वीरेश सिंह, अरविंद सिंह, अनिल सिंह सहित आसपास के ग्रामीण थे।

डरैला गांव में 5001 कन्याएं शामिल हुई कलश यात्रा में

जिले के गुठनी प्रखंड के डरैला गांव में श्रीशतचंडी महायज्ञ एवं श्री काली की स्थापना को लेकर मंगलवार को बैंड बाजे के साथ कलश यात्रा निकाली गई, जिसमें हज़ारों श्रद्धालुओं ने भाग लिया। कलश यात्रा डरैला यज्ञ स्थल से प्रारंभ होकर डरैला बाजार होते हुए कुरमौली, विशुनपुरा के रास्ते सोहगरा सरयू नदी पहुंच वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ जल भरा गया और पुन: यज्ञ स्थल पर पहुंचा। कलश यात्रा में आकर्षक झांकियां भी निकाली गई थी। आयोजक मंडल के सदस्य विजयपाल ने बताया कि मथुरा से आए प्रवचनकर्ता पं. विकास गौतम महाराज द्वारा दिन यज्ञ शाला में शाम 4 बजे से 6 बजे तक प्रवचन किया जाएगा। इस दौरान कई कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। मौके पर सरपंच बासुणी पाल, बीडीसी राजू माली, श्याम जायसवाल, रंजीत कुशवाहा, ग्रिस मिश्र सहित काफी की संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here