भारतीय परिपेक्ष में कौमी एकता राष्ट्रीय विकास की पहली सीढ़ी

0
kaumi ekta divas

परवेज अख्तर/सिवान: नेहरू युवा केंद्र ने आंदर प्रखंड के जयजोर गांव में सोमवार को पूर्व महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के जन्मदिन को जयराम भगत की अध्यक्षता में कौमी एकता दिवस के रूप में मनाया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम की शुरुआत लेखापाल इश्वरदेव यादव ने द्वीप प्रज्ज्वलित कर तथा उनके प्रतिमा पर माल्यार्पण कर किया। उन्होंने कहा कि कौमी एकता को जीवंतता प्रदान करने के लिए देश में यह दिवस मनाए जाने की परंपरा पूर्व प्रधानमंत्री के जन्म दिवस से आरंभ किया गया। कौमी एकता अर्थात अनेकता में एकता यही हमारे देश की पहचान है। प्रो. संदीप कुमार यादव ने कहा कि इंदिरा गांधी ने अपने मृत्यु के कुछ ही दिन पहले कही थी कि मुझे लगता है कि राष्ट्र सेवा में मेरी मृत्यु हुई तो मेरे खून की हर एक बूंद देश के काम आएगी। उनका ब्रह्म वाक्य देश के विकास में मिल का पत्थर साबित हुआ है। पुरुषोत्तम कुमार साह ने कहा कि भारतीय परिपेक्ष में कौमी एकता राष्ट्रीय विकास की पहली सीढ़ी है। यह देश की आत्मा की पुकार बन चुकी है। कार्यक्रम में मन्नु कुशवाहा, सत्येंद्र कुशवाहा, अमर कुमार कुशवाहा, एनवाइवी श्रीमला कुमार, निता कुमारी, नीतू कुमारी, काजल कुमारी सहित कई लोग शामिल थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal