पुलिस पर सवाल: यह हाल रहा तो नही होगा अपराध पर नियंत्रण, वायरल तस्वीर दे रही है गवाही

0

पटना: मुजफ्फरपुर और आसपास के जिलों में बढ़ते आपराधिक वारदातों पर कंट्रोल करने के लिए पुलिस रणनीति बनाने और दावा करने में कभी पीछे नहीं हटती। लेकिन अपराधी अक्सर पुलिस को चुनौती देते हुए वारदातों को अंजाम देते रहते हैं। इसकी एक वजह है पुलिस की लापरवाही से भरी कार्यशैली। वरीय अधिकारियों द्वारा बनाई गई रणनीति को थानों में तैनात पुलिस वाले किस तरीके से सर जमीन पर उतारते हैं इसकी तस्वीर मुजफ्फरपुर से वायरल हो रही है। मामला अहियापुर थाना पुलिस का है। यहां मुजफ्फरपुर के अलावे शिवहर, सीतामढ़ी, दरभंगा, मधुबनी, चंपारण समेत कई जिलों की सीमा मिलने की वजह से आपराधिक वारदात ज्यादा होते हैं। इन वारदातों को लेकर पुलिस कितनी सजग है इसका नमूना है यह तस्वीर। जिसमें आप देख सकते हैं ड्यूटी के दौरान पुलिस वाले दिन के उजाले में किस तरीके से अपनी गाड़ी में ही खर्राटे भर रहे हैं। तस्वीर अहियापुर थाना क्षेत्र में स्थित एन एच 57 पर गश्ती कर रहे पुलिस पदाधिकारी की है। ये पुलिस वाले ड्यूटी में है जिन्हें गाड़ी और अन्य सुविधाएं दी गई है ताकि वे अपराधियों पर नकेल कस सकें। लेकिन अधिकारी महोदय अपनी सरकारी गाड़ी में खर्राटे भर रहे हैं। साथ में गाड़ी का चालक भी बेफिक्री की नींद ले रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

रागगीर ने ले ली तस्वीर पर बेखबर रहे पुलिस वाले

आते जाते किसी राहगीर ने यह तस्वीर ले लिया लेकिन सोती हुई मुजफ्फरपुर पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी। ऐसे में सवाल उठता है कि खर्राटे भर रहे ये पुलिस वाले आम आवाम की सुरक्षा कैसे करेंगे। यह तस्वीर पहली बार नहीं आई है। इसके पहले भी तस्वीरें सामने आ चुके हैं। खासकर रात्रि गश्ती के दौरान पुलिस वालों का गाड़ी में सो जाने का सिलसिला पुराना है। यही वजह है कि शहर से लेकर गांव तक चोरी और छिनतई की वारदातों में जबरदस्त इजाफा हुआ है।

सीसीटीवी लगाने की मांग

पुलिस की गाड़ियों में जीपीएस लगा दिया है ताकि उनके लोकेशन की जानकारी मिल सके। लेकिन वरीय अधिकारियों के पास ऐसी तकनीक नहीं है कि वे पदाधिकारी और जवानों के कार्यकलाप पर निगरानी रख सकें। इसलिए पुलिस की गाड़ियों में सीसीटीवी लगाने की मांग उठने लगी है। इस मामले में एसएसपी जयंतकांत ने कहा है कि तस्वीर का अवलोकन किया जा रहा है। और उसकी छानबीन कराई जा रही है। जो तथ्य सामने आएंगे उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।