गोपालगंज में कैदी की मौत पर बवाल

0

आक्रोशित लोगों ने किया सड़क जाम

पूर्व मुखिया थे मृतक वीरेंद्र

परवेज़ अख्तर/गोपालगंज :- जिले के स्थानीय चनावे मंडल कारा में एक सजायाफ्ता कैदी की मौत हो जाने की सनसनी खेज मामला सामने आया है। वहीं इस घटना के आक्रोशित परिजनों व लोगों ने घण्टों सड़क जाम कर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की व यातायात बाधित रखा। मिली सूचना के मुताबिक गोपालगंज सदर प्रखंड के रामपुर टेंगराही पंचायत के पूर्व मुखिया व वर्तमान मुखिया फूलमती देवी के पति 69 वर्षीय वीरेंद्र यादव की तबियत अचानक रात में खराब हो गयी जेल के चिकित्सालय में उन्हें ईलाज हेतु लाया गया ,जहां से चिकित्सकों ने सदर अस्पताल रेफर कर दिया,जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। जहां उनकी मौत होने पर जेल प्रशासन द्वारा मृतक के शव को ऐसे ही सदर अस्पताल में छोड़ दिया गया।इसकी सूचना जब परिजनों को मिली तो काफी संख्या में लोग सदर अस्पताल आएं व वीरेंद्र की मौत को देखकर आक्रोशित हो गए और नगर थाना के बंजारी चौक को जाम कर घंटो प्रदर्शन किया । परिजनों ने जेल प्रशासन के खिलाफ ईलाज न करवाने और लापरवाही का आरोप लगाते हुए जेल अधीक्षक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है ।इस दौरान सड़क पर दोनों तरफ सैकड़ों की संख्या में वाहनों की लंबी कतार लग गयी,चिलचिलाती धूप में लोग परेशान होते रहे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

बताया जाता है कि वीरेंद्र यादव वहां का पूर्व मुखिया भी था अभी वर्तमान में उसकी पत्नी मुखिया है वीरेंद्र यादव के ऊपर चर्चित व्रजेश राय हत्याकांड की मामले में शामिल होने का आरोप था। इसी मामले में वह आजीवन कारावास की सजा काट रहा था बताया जाता है कि कल शाम उसके सीने में दर्द हुआ, जिसके बाद जेल के अंदर बने अस्पताल में भर्ती कराया गया भर्ती कराने के बाद भी जब उसकी तबीयत में सुधार नहीं हुआ तब उसे देर रात में ही उसे सदर अस्पताल गोपालगंज में भर्ती कराया गया, जहां लाने से पहले ही उसकी मौत हो गई। मृतक के परिजनों का आरोप है कि जेल प्रशासन के द्वारा बीमार होने पर उन्हें कोई सूचना नहीं दी गई। उसके साथ शव को लावारिस में अस्पताल में छोड़कर जेल प्रशासन के सिपाही चले गए परिजनों को मौत की सूचना देर से ही दी गई इसी को लेकर परिजनों ने आज तड़के रविवार की सुबह नगर थाना के बंजारी चौक पर एनएच 28 को जाम कर घंटों प्रदर्शन किए। जाम और हंगामा की वजह से एनएच 28 पर कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया हालांकि सदर एसडीपीओ नरेश कुमार पासवान अवर डीसीएलआर मौके पर पहुंचकर परिजनों को समझा-बुझाकर शांत कराया और जाम एवं प्रदर्शन को खत्म करवाया।इस घटना के बाद मृतक के परिजनों का बुरा हाल हो गया है। परिजनों ने जिलाधिकारी को एक आवेदन सौप कर इस मामले की जांच करते हुए दोषियों के विरुद्ध करवाई की मांग की है।उधर इस सम्बंध में गोपालगंज के एसडीपीओ नरेश पासवान ने बताया कि आक्रोशित लोगों को समझाबुझा कर शांत करवा लिया गया है ।मामले की जांच के लिए जिलाधिकारी के स्तर से पहल किया जा रहा है।उन्होंने कहा कि मृतक पूर्व मुखिया वीरेंद्र यादव के शव का पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को सौप दिया गया है पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।