सैफ अली की हत्या कर अपराधियो ने शव को चवर में फेंका, ग्रामीणों ने हत्या को लेकर तीन घण्टे तक कि रोड़ जाम

0

प्रवेज़ अख्तर/सिवान- जिले के बड़हरिया  थाना क्षेत्र के लौवान निवासी शलाउद्दीन खान के पुत्र सैफ अली खान 21 वर्ष  एक सप्ताह से गायब युवक का लाश जैसे ही थाना क्षेत्र के लौवान गाँव के उत्तरी चवर के पोखरे में मिली वैसे ही सैकड़ो की संख्या में ग्रामीण  पोखरे के पास पहुँच गए। बाद में इसकी सूचना बड़हरिया थाना पुलिस को दी।सूचना पर पहुँची पुलिस ने लाश को बरामद कर लिया। बतादें की लाश की आधी हिस्सा पानी मे था और आधा हिस्सा पानी के ऊपर। ग्रामीणों द्वारा स्थानीय थाना पुलिस के आने के बाद ग्रामीणों के सहयोग से शव को पानी से निकाला गया। शव निकलते ही शव को देखने के लिए हजारो की संख्या में ग्रामीण शव के पास उमड़ पड़े।वही शव देखकर ग्रामीण उग्र हो गये। नाराज ग्रामीणों ने स्थानीय पुलिस को शव नही उठाने दिया पुलिस को शव लेने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा वही मृतक के सिर पर लाठी डंडे और गले मे दाग और चोट का निशान है ऐसे देखने मे प्रतीत हो रहा है कि मारपीट कर उसकी हत्या करके पोखरे में अपराधियो  ने शव को फेंका दिया है।

crime in siwan

जिसकी खबर को पाते ही एसआई मो. अनस,राकेश कुमार सिंह, और प्रभात कुमार घटना स्थल पर पहुँच कर शव को पोखरे से निकलवाया मगर नाराज ग्रामीणों ने  पुलिस को  शव को नही उठाने दिया। वही  उसके बाद नाराज ग्रामीणों ने शव को उक्त चँवर से उठाकर करबला बाजार पर लाकर शव के साथ सिवान- बड़हरिया मुख्य मार्ग को  आगजनी करते हुए जाम कर दिया। इस दौरान ग्रामीणों ने पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे और पुलिस मूक दर्शक बनी रही। उधर रोड़ जाम के चलते गाडियो का आना जाना बंद हो गया और देखते ही देखते गाड़ियों की लम्बी कतारे लग गई तथा करबला बाजार में घण्टो अफरा – तफरी का माहौल कायम रहा। रोड़ जाम व आगजनी के साथ हो रहे हंगामा के चलते करबला बाजार की सारी दुकाने बन्द हो गई और बाजार में सन्नता पसर गया। रोड़ जाम कर रहे आक्रोशितों व परिजन  जिले के वरीय पदाधिकारी को बुलाने की मांग कर रहे थे।

saif htya kand

वरीय पुलिस पदाधिकारी के बुलाने के लिए ग्रामीणों ने लगभग तीन घण्टे तक रोड़ जाम रखा बाद में बड़हरिया पुलिस की सूचना पर बड़हरिया  सी.ओ वकील प्रसाद सिंह ,इंस्पेक्टर अनुरुध प्रसाद ,मुफसिल थाना अध्यक्ष अभिजीत कुमार, महादेवा ओ पी प्रभारी फेराज अहमद,समेत कई जनप्रतिनिधियों  ने परिजनों और आक्रोशितों को  समझा-बुझाकर कर सड़क के जाम को तीन घण्टे बाद हटवाया उसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सिवान सदर अस्पताल भेजा। वही मृतक सैफ अली खान कें पिता  शलाउद्दीन खान ने स्थानीय पुलिस पर आरोप लगाया कि सैफ अली खान की गायब की सूचना और आवेदन पुलिस को घटना के दिन ही दी गई थी लेकिन पुलिस द्वारा कोई करवाई नही की गई और जब भी परिजन पुलिस से करवाई की बात की तो मामला प्रेम प्रसंग बता कर डांट -फटकार कर  भगा दिया गया । परिजनों का कहना है कि अगर पुलिस सक्रिय रहती तो मेरा पुत्र की जान शायद  नही जाती ।बता दे  कि  मृतक के सात भाई और चार बहन है जिसमे सिरताज खान, छोटे खान, सोनू खान ,पप्पू खान ,वलिम खान ,शाहरुख खान , है  जिसमे सबसे छोटा भाई से बड़ा सैफ अली खान था  परिजनों का आरोप था कि एक सप्ताह पहले ही बड़हरिया पुलिस को सैफ की लापता होने की सूचना व लिखित आवेदन बड़हरिया पुलिस को दी गई मगर पुलिस ने उस आवेदन को गंभीरता से नही लिया जिसका नतीजा आज सैफ का शव लौवान गाँव  के उत्तरी चँवर से बरामद हुआ। इस तरह एक माह में लकड़ी दरगाह के जलटोलिया निवासी हसीबुल हसन के पुत्र फरहान हुसैन को अपहरण करके उसकी हत्या गोपालगंज जिला के उचका गांव थाना के दाहा नदी में अपराधियो ने फेक दिया था। उस बड़ी घटना के बाद लकड़ी दरगाह के एक युवती सुमन कुमारी की हत्या करके लकड़ी दरगाह के मीरगंज सड़क के किनारे फेक दिया गया उसके पहले  कुवही गाँव के  चवर के एक पोखरे से पुलिस ने इसी  थाना क्षेत्र के नरहरपुर गाँव के मेराज अहमद की लाश बरामद की  थी ।इस तरह बड़हरिया थाना इलाके में अपहरण कर हत्या के बाद शव को पोखरे या चवर में  फेकने का काम पुलिस के लापरवाही से लगातार जारी है।