सिसवन: भूमि विवाद में शूटर बुलाकर करवाई गई थी बिंदा यादव की हत्या, तीन गिरफ्तार

0

परवेज अख्तर/सिवान: सिसवन थाना क्षेत्र के भीखपुर पंचायत के किशुनबारी गांव में 22 फरवरी की रात सुप्तावस्था में हुई बिंदा यादव की हत्या में शामिल तीन अपराधियों को सिसवन थाने की पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। गिरफ्तार अपराधियों मे सिसवन थाना क्षेत्र के किशुनबारी गांव निवासी अमित यादव, दयाल शरण सिंह एवं रघुनाथपुर थाना क्षेत्र के गंभीरार गांव निवासी सुरेश चौहान शामिल है। गिरफ्तार तीनों अपराधियों ने हत्याकांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है। मामले में एसपी अभिनव कुमार ने बताया कि गिरफ्तार अपराधी अमित यादव ने पुलिस के समक्ष अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए बताया कि बिंदा यादव मेरे पट्टीदार थे। उनसे मेरा पुराना भूमि विवाद था। जिसको लेकर बिंदा यादव बाहरी लोगों को बुलाकर धमकी दिलवाते रहते थे। उसकी धमकी से तंग आकर शूटर की मदद से बिंदा यादव की हत्या करने के लिए 80 हजार रुपए में बात तय किया तथा तत्काल एटीएम से पैसा निकालकर 20 हजार रुपया दे भी दिया था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 7.27.12 PM
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

शेष रुपया काम पूरा हो जाने के बाद देने की बात हुई थी। इसी बीच बिंदा यादव का लड़का अपनी आंख एवं पेट का इलाज कराने दिल्ली गया था। बिंदा यादव के घर में अकेले होने की सूचना के बाद अमित ने शूटर एवं उसके साथियों को अपने घर बुलाया। उक्त सभी उसी रात बिंदा यादव के घर गए, जहां बिंदा यादव अपने घर के दलान मे अकेले सोए थे। सोए हुए अवस्था में बिंदा यादव के पेट एवं सीना मे गोली मार दी। इस संबंध में हत्या के तीन दिन बाद बिंदा यादव के पुत्र रामबाबू यादव ने अज्ञात अपराधियों के विरुद्ध सिसवन थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। हत्या के बाद से ही सिसवन पुलिस लगातार जांच पड़ताल कर रही थी। इसी दौरान शुक्रवार की दोपहर चैनपुर बाजार से अमित यादव की गिरफ्तारी हुई। जिसने हत्या में अपनी संलिप्तता स्वीकार की। उसकी निशानदेही पर हत्या में शामिल अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी संभव हुई। कांड के उद्भेदन में शामिल टीम थानाध्यक्ष कुमार वैभव, पुअनि अरविंद कुमार एवं टेक्निकल सेल प्रभारी उपेंद्र कुमार सिंह शामिल थे।