सिसवन : मृत बीडीसी के परिजनों को तत्काल मुआवजा दें प्रशासन: जिप उपाध्यक्ष

0
Dead body in a mortuary

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के चैनपुर ओपी थाना अंतर्गत रामगढ़ पंचायत के पिपरा निवासी वह बीडीसी सदस्य बंधु साह के 40 वर्षीय पुत्र अरुण साह की गुरुवार के अहले सुबह मौत हो गई. वे कई दिनों से बीमार चल रहे थे. मिली जानकारी के मुताबिक अरुन साह करीब दस दिनों से बुखार से पीड़ित थे वह चैनपुर के एक प्राइवेट क्लीनिक में इलाज चला रहे थे. तभी बुधवार की शाम उनकी अचानक तबीयत ज्यादा बिगड़ गई. जिसे आनन-फानन में परिजनों ने उन्हे छ्परा अस्पताल ले गए, लेकिन कोई अस्पताल उन्हें एडमिट करने के लिए तैयार नहीं हो रहे थे.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

तब उन्हें बुधवार के रात्रि सीवान लाया गया, जहां उनकी मौत हो गई. हालांकि परिजनों के मुताबिक साह दो बार टीका ले चुके हैं व कोरोना टेस्ट भी कराए थे. जिसमें परिजनों के मुताबिक नेगेटिव बताया जा रहा था, जबकि ग्रामीणों की माने तो कोरोना पॉजिटिव हो चुके थे, जिससे इलाज के अभाव में उनकी मौत हुई है. इधर जिप उपाध्यक्ष ब्रजेश कुमार सिंह ने पीड़ित परिजनों को सांत्वना दी. वह जिला प्रशासन से बीडीसी सदस्य होने के नाते उन्हें आपदा राहत कोष से मिलने वाली मुआवजा देने की मांग की है.