सिवान: जवाहर नवोदय विद्यालय में समारोह पूर्वक बना कारगिल विजय दिवस

0

परवेज अख्तर/सिवान: करमलीहाता में स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में एनसीसी विभाग के तत्त्वावधान में कारगिल विजय दिवस समारोह कोविड के निर्देशों को ध्यान में रखते हुए हर्ष और उल्लास से मनाया गया. कारगिल विजय दिवस कारगिल युद्ध की जीत और अपने भारतीय बहादुर सैनिकों के साहस को याद और नमन करने के लिए मनाया जाता है. कारगिल युद्ध 1999 में 527 भारतीय सैनिकों ने अपने प्राणों की आहुति देकर पाकिस्तानी सेना को वापस लौटने पर मजबूर कर दिया. लगभग 1400 भारतीय सैनिक घायल हुए परंतु भारत का अपनी भूमि पर पुनः नियन्त्रण हो गया था. इस पुनीत अवसर पर विद्यालय में एक गोष्ठी का आयोजन किया गया. जिसकी अध्यक्षता विद्यालय के प्राचार्य डॉ. सुधांशु भूषण मिश्र ने की. कोविड के कारण इस गोष्ठी में छात्रों ने ऑनलाइन सहभागिता की. ऑनलाइन माध्यम से विद्यालय की छात्रा नरगिस परवीन व कास्वी सिंह ने भाषण दिया.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

गोष्ठी का संचालन करते हुए विद्यालय के एनसीसी ऑफिसर प्रीतेश रंजन राजुल ने कवि रामावतार त्यागी की कविता का काव्य पाठ किया. प्राचार्य ने कारगिल युद्ध पर प्रकाश डालते हुए कहा कि कार्य क्षेत्र में अपना सर्वस्व समर्पण कर देना हमारे और आपके लिए कारगिल युद्ध है. जो जिस क्षेत्र में हैं सभी अपने क्षेत्र में बेहतर करें तभी भारत का विकास होगा और शहीदों के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी. उक्त अवसर पर अपनी भावनाओं को विद्यालय के एनसीसी कैडेटों ने पेंटिंग के माध्यम से अभिव्यक्त किया और उसे माई गवर्नमेंट ऐप के इंडिया एनसीसी के डिजिटल फोरम में अपलोड कर प्रदर्शित किया. सौम्या, जिया कुमारी, अनुप्रिया गुप्ता, अनमोल, प्रियांशु कुमार, शुभम श्रीवास्तव, राज वर्मा, प्रज्ञा कौशिक, रवि कुमार, रौशन कुमार, गोल्डी कुमारी और सुरभी कुमारी की पेंटिंग बहुत सराही गई. कार्यक्रम के अंत में विद्यालय की वरीय शिक्षिका डॉ नंद कुमारी ने छात्रों को बधाई दी और धन्यवाद प्रेषित किया. इस अवसर पर विद्यालय के शिक्षकगण दशरथ राम, ममता रानी, सच्चिदानंद शर्मा, राहुल कुमार, बिजय कुमार, चेतना सिंह, संगीता मिश्रा, अमरेंद्र कुमार, मधुप मयंक, संजय शर्मा, अवधेश कुमार आदि उपस्थित थे.