सिवान: विभिन्न शिक्षण संस्थानों में मनी मुंशी प्रेमचंद की जयंती

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के विभिन्न शिक्षण संस्थानों में मुंशी प्रेमचंद की जयंती समाराेह पूर्वक मनाई गई इस दौरान उनके तैलचित्र पर पुष्प अर्पित कर व्यक्तित्व व कृतित्व पर प्रकाश डाला गया। शहर के विद्या भवन महिला महाविद्यालय में प्राचार्या डा. रीता कुमारी की अध्यक्षता में हिंदी विभाग द्वारा जयंती मनाई गई। इस अवसर पर भारतीय किसानों की समस्या और त्रासदी शीर्षक पर निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में छात्राओं ने बढ़-चढ़कर प्रतिभाग किया। प्राचार्या ने कहा कि प्रेमचंद ना सिर्फ भारत, बल्कि दुनियाभर के मशहूर और सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाले रचनाकारों में से एक हैं। उन्होंने अपनी रचना गबन के जरिए एक समाज की ऊंच-नीच, निर्मला से एक स्त्री को लेकर समाज की रूढ़ीवादिता और बुढ़ी काकी के जरिए समाज की निर्ममता को जिस अलग और रोचक अंदाज में पेश किया, वह अतुलनीय है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

इसी प्रकार पूस की रात, बड़े घर की बेटी, बड़े भाई साहब, आत्माराम, शतरंज के खिलाड़ी जैसी कहानियों से प्रेमचंद ने हिंदी साहित्य की जो सेवा की है, वह अद्भुत है। वहीं दूसरी ओर राजा सिंह महाविद्यालय में हिंदी और उर्दू विभाग के सौजन्य से मुंशी प्रेमचंद की 143वीं जयंती मनाई गई। डा. शैलेश कुमार राम ने प्रेमचंद के जीवन परिचय के साथ विषय प्रवेश करवाया। छात्रा संध्या कुमारी ने मृतकभोज कहानी का पाठ किया। छात्रा इल्मा आज़ाद और मुस्कान खातून ने प्रेमचंद का परिचय प्रस्तुत किया। इस अवसर पर विभागाध्यक्ष डा. मनोज कुमार सिंह, विभागाध्यक्ष डा. अर्चना कुमारी, डा. रीता शर्मा, डा. पूजा कुमारी, डा. निधि गुप्ता, प्राध्यापिका डा. पूजा तिवारी, डा. अंशिका सिंह, पल्लवी निशा, डा. अर्चना कुमारी, स्वाति सिन्हा, जितेंद्र कुमार प्रसाद, राजनीतिशास्त्र के विभागाध्यक्ष डा. श्यामशंकर, सहायक आचार्या डा. सुनीता मंजू, रसायनशास्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष डा. मनोज कुमार, उर्दू विभाग के विभागाध्यक्ष इम्तियाज अहमद, भूगोल विभाग के विभागाध्यक्ष डा. बोलेंद्र कुमार अगम, जंतुशास्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष डा. मिर्जा इम्तियाज बेग़, मनोविज्ञान विभाग की विभागाध्यक्ष आशुतोष त्रिपाठी, मुन्ना पांडेय सहित अन्य शिक्षकगण व छात्राएं उपस्थित थीं।