सिवान में कोरोना से ग्रसित शिक्षक की ईलाज के दौरान पटना में मौत

0
siwan me corona se maut

परवेज अख्तर/सीवान. जिले के आनंद नगर निवासी शिक्षक राजकिशोर प्रसाद गुप्ता की कोरोना संक्रमण से ईलाज के क्रम में पटना में शनिवार को मौत हो गई. प्राप्त जानकारी के अनुसार शिक्षक मृत शिक्षक हुसैनगंज प्रखंड के उत्क्रमित मिडिल स्कूल हथौड़ा हिंदी में प्रधानाध्यापक के पद पर कार्यरत थे. अभी उनकी सेवा तीन वर्ष शेष रह गई थी. उनके बारे में बताया जाता है कि पांच जुलाई से उनको बुखार की शिकायत थी.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

जिसका ईलाज सीवान में प्राईवेट डाक्टर से कराया जा रहा था. स्थिति नाजूक देखते हुए उनका जांच 11 जुलाई को सदर अस्पताल सीवान में कराया गया. 12 जुलाई को जांच रिपोर्ट में पता चला कि वे कोरोना पॉजिटिव हैं. आनन फानन में एम्स पटना में ईलाज के लिए आईसीयू में भर्ती कराया गया. जहां ईलाज के क्रम में शनिवार को उनकी मौत हो गयी. मौत की खबर सुनते ही शिक्षकों में मायूसी छा गयी. बतादें कि मृत शिक्षक जीरादेई प्रखंड व आंदर थाने के गड़ार गांव के मूल निवासी थे. आनंद नगर सीवान में अपना निजी मकान बना कर परिवार के साथ रहते थे. उनके परिवार के बारे में बताया जाता है कि उनके दो पुत्र व एक पुत्री है. दोनों पुत्र इंजीनियर हैं. बड़े लड़के की शादी कर चुकें हैं. उनकी बहु भी इंजीनियर है. दोनों बंगलोर में नौकरी करते हैं. पुत्री की भी शादी हो चुकी है.

उनका छोटा पुत्र इंजीनियरिंग कंप्लीट करके बंगलोर में रहता है. इधर सीवान में वह अपनी पत्नी के साथ रहते थे. उनके मौत की खबर मिलते ही शिक्षक महकमे में शोक की लहर दौड़ गयी. शोक व्यक्त करने वालों में मुख्य रूप से अरविंद कुमार, शंभु सिंह, विनय सिंह, राधेश्याम सिंह, रामसागर शर्मा, शशि प्रसाद, राजेश कुमार, मैनेजर यादव, जयप्रकाश दूबे, शंकर प्रसाद, वकील यादव, अलगू बैठा, अमल किशोर यादव सहित दर्जनों शिक्षक थे. उनके दिवंगत आत्मा की शांति के लिए सभी शिक्षकों ने ईश्वर से प्रार्थना की है.