सिवान: 48000 किसान के ई-केवाईसी व एनपीसीआई के लिए पंचायतवार कैंप

0
Siwan Online News

ई-केवाईसी एवं एनपीसीआई कराने वाले किसानों को ही मिलेगा पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

✍️परवेज़ अख्तर/सिवान:
जिले में 48 हजार किसानों के ई-केवाईसी व एनपीसीआई कराने के लिए आज यानी 12 जून से पंचायतवार कैंप का आयोजन किया जा रहा है, जो 22 जून तक चलेगा. बताया जाता है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उन्हीें किसानों को मिलेगा, जिनका ई-केवाईसी व एनपीसीआई हुआ होगा. बताते चलें कि जिला में 4 लाख 18 हजार किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ प्राप्त कर रहे हैं. जिसके आलोक में किसानों को ई-केवाईसी व एनपीसीआई कराना अनिवार्य है. इधर 10 जून को जिला पदाधिकारी मुकुल कुमार गुप्ता की समीक्षा के दौरान पाया कि 48 हजार ऐसे किसान है, जिनका अबतक ई-केवाईसी व एनपीसीआई नहीं पाया है, जो योजना के लाभ से वंचित हैं. समीक्षा के दौरान पाया गया कि 3 लाख 70 हजार किसानों को राशि जा रही है.

जिला कृषि पदाधिकारी जयराम पाल ने बताया कि वंचित किसानोें को भी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ प्राप्त हो सके, इसके लिए पंचायतवार कैंप लगाकर किसानों के ई-केवाईसी व एनपीसीआई कराने का निर्देश दिया है. जिसके आलोक में 12 जून से पंचायतवार कैंप की शुरूआत हो रही है. डीएओ ने बताया कि चूकि कृषि समन्वयक व किसान सलाहकार अपनी मांगों को लेकर अनिश्चित कालीन हढ़ताल पर है, ऐसे में एटीएम व बीटीएम को इस कार्य के लिए लगाया गया है. उन्होंने बताया कि कैंप का आयोजन इस माह के 22 जून तक निर्धारित है.

जिला कृषि पदाधिकारी ने बताया कि पंचायतवार बीटीएम व एटीएम की प्रतिनियुक्ति करते हुए निदेश दिया गया है कि विधिवत प्रचार-प्रसार कर निर्धारित तिथि को संबंधित पंचायतवार कैंप में लंबित किसानों के ई-केवाईसी व एनपीसीआई कराना सुनिश्चित करेगे. साथ ही प्रगति प्रतिवेदन की समीक्षा कर संबंधित प्रखंड कृषि पदाधिकारी को प्रतिदिन संध्या 5 बजे जिला कृषि कार्यालय को प्रतिवेदित करेंगे. जिला कृषि पदाधिकारी जयराम पाल ने किसानों से अपील किया है कि वे प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभ प्राप्त करने के लिए अवश्य अपना ई-केवाईसी व एनपीसीआई करा लें. बताते चलें कि इस योजना के तहत किसनों को प्रत्येक वर्ष केंद्र सरकार की तरफ से छह हजार रूपए प्रदान किया जाता है.