सिवान: चर्चित हरिहरपुर लालगढ़ गोलीकांड के घायल शहीम आलम ने मुख्यमंत्री के जनता दरबार में पहुंच कर लगाई न्याय की गुहार

0
  • दर्ज कांड के अनुसंधानकर्ता महिला सब इंस्पेक्टर कंचन कुमारी ने तीन आरोपितों को भेज चुकी है जेल
  • पुलिस की भय से आरोपित हो चुके हैं भूमिगत

परवेज अख्तर/सिवान: चर्चित गोली कांड में घायल हरिहरपुर लालगढ़ गांव के शहीम आलम ने मुख्यमंत्री के जनता दरबार में पहुंच कर न्याय की गुहार लगाई है। ज्ञात हो कि जीबी नगर थाना क्षेत्र के हरिहरपुर लालगढ़ गांव स्थित चिमनी भट्ठा पर 15 मई को उस समय अफरातफरी मच गई जब गांव के ही भानु प्रताप सिंह और फतेह आलम उर्फ मुन्ना मियां के समर्थकों के बीच गोली चलने लगी। एक पक्ष के फतेह आलम उर्फ मुन्ना मियां,रहीम आलम, शहीम आलम, सलीम मियां व सुरेश यादव गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हो गए थे। देखते ही देखते गांव में चीख-पुकार मच गई और दहशत कायम हो गया था।उक्त गोली कांड को लेकर घायल फतेह आलम उर्फ मुन्ना मियां के फर्द बयान पर जीबी नगर थाना में प्राथमिकी थाना कांड संख्या 148/22 हुई थी इसमें हरिहरपुर लालगढ़ निवासी भानु प्रताप सिंह,नीलेश कुमार सिंह, पिंकू सिंह, मुकेश कुमार सिंह, धोती वाला हृदयानंद सिंह,अनिल सिंह,मोहम्मदपुर पट्टी निवासी सह शराब माफिया भुटूर सिंह तथा जामो बाजार थाना क्षेत्र के खुलासा निवासी उपेंद्र सिंह को नामजद करते हुए चिमनी-भट्ठा पर जबरन अवैध रूप से कब्जा करने की नीयत से गोली चलाने का आरोप लगाया था।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

उक्त घटना में स्थानीय और जिला पुलिस पदाधिकारी द्वारा कोई कार्रवाई नहीं करने तथा नामजद आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं होने,आरोपितों द्वारा मुकदमा उठाने का दबाव बनाने तथा मुकदमा वापस नहीं लेने पर अंजाम भुगतने की धमकी देने से परेशान होकर घायल शहीम आलम ने मुख्यमंत्री के जनता दरबार में पहुंच आरोपितों को गिरफ्तार करने तथा न्याय की गुहार लगाई है।इस संबंध में में दर्ज कांड के अनुसंधानकर्ता प्रशिक्षु सब इंस्पेक्टर कंचन कुमारी ने बताया कि दर्ज कांड के नामजद अभियुक्त भानु प्रताप सिंह, मुकेश कुमार सिंह तथा उपेंद्र कुमार सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है और शेष आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए संदिग्ध ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है।प्रशिक्षु सब इंस्पेक्टर कंचन कुमारी ने आगे बताया कि फिरार रहने की स्थिति में माननीय न्यायालय से अनुमति प्राप्त होते हीं कुर्की जब्ती का तामिला किया जाएगा। घटना में शामिल सभी आरोपितों को हर हाल में गिरफ्तार कर पीड़ित पक्ष के लोगों को मदद दिलाई जाएगी।