सिवान: महेंद्र नाथ मंदिर में सोमवारी के दिन जल चढ़ाने के दौरान भगदड़, 2 श्रद्धालुओं की मौत, 2 महिलाएं जख्मी

0

परवेज अख्तर/सिवान: सावन की पहली सोमवारी पर शिवालयों में भगवान शिव को जल चढ़ाने के लिए भक्तों की भारी भीड़ उमड़ती है. सीवान के ऐतिहासिक महेंद्र नाथ मंदिर में इस मौके पर पर सोमवार की अल सुबह घटना हो गई. मंदिर में भीड़ के बीच दबने से दो महिला श्रद्धालुओं की मौत हो गई जबकि दो अन्य महिलाएं घायल हो गई हैं. घटना की सूचना मिलते ही सिसवन थाने की पुलिस और चैनपुर महादेवा ओपी की पुलिस मेहंदार मंदिर पहुंच गई है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

मृत महिला की पहचान हुसैनगंज थाना क्षेत्र के प्रतापपुर निवासी मोताब चौधरी की पत्नी लीलावती देवी के रूप में हुई है. जीरादेई थाना क्षेत्र के पथार गांव निवासी दिलीप बैठा की पत्नी सोहाग मति की भी मौत हुई है. वहीं घायल महिला प्रतापपुर निवासी जनक देव भगत की पत्नी शिव कुमारी और हुसैनगंज थाना क्षेत्र के शाहबाजपुर निवासी दीनानाथ यादव की पत्नी अजोरिया देवी है. घटना के बाद अफरातफरी मच गई. परिजनों का कहना है कि यह घटना सोमवार तड़के का है. लोग रात के 2.30 से तीन बजे ही जल चढ़ाने के लिए पहुंचे थे.

परिजन की जुबानी सुनें…

घायल शिव कुमारी के पति जनक देव भगत ने बताया कि मेहंदार मंदिर में वो जल चढ़ाने के लिए आए थे. सोमवारी के दिन आज सुबह तीन बजे मंदिर का गेट खुलने के दौरान भारी भीड़ उमड़ पड़ी. इस दौरान भगवान शिव को जल चढ़ाने के लिए लोगों की भारी भीड़ एक साथ घुसने लगी. इसमें भगदड़ और धक्का-मुक्की जैसी स्थिति हो गई. इसमें उनकी पत्नी भी दब गई.

तीनों महिलाओं को लाया गया अस्पताल

घटना के बाद तीनों महिलाओं को सीवान सदर अस्पताल लाया गया. यहां लीलावती देवी को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. वहीं दोनों घायल महिला शिवकुमारी और अजोरिया देवी का सीवान सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है. इधर, लीलावती देवी की मौत के बाद परिजन घर लेकर चले गए. अभी मंदिर में स्थिति सामान्य है.