सिवान: मिनी आंगनबाड़ी में फर्जी नौकरी देने वाला ठग धराया, सुपरवाइजर की नौकरी के लिए अभ्यर्थियों से करता था लाखों की ठगी

0
  • आरोपी की पहचान जामो थाना क्षेत्र के तेलमापुर गांव निवासी
  • तकरीबन दो दर्जन से अधिक महिलाओं को ठगी का बनाया शिकार

परवेज अख्तर/सिवान: मिनी आंगनबाड़ी में फर्जी नौकरी दिलाने वाले एक शख्स को बुधवार की दोपहर तकरीबन 1:00 बजे सीवान कचहरी के समीप से पुलिस ने हिरासत में ले लिया. पकड़े गए आरोपी की पहचान जामो थाना क्षेत्र के तेलमापुर निवासी 28 वर्षीय अभिमन्यु कुमार सिंह के रूप में हुई है. बताया जा रहा है कि इस शख्स के द्वारा फर्जी तरीके से मिनी आंगनबाड़ी सेविका और सुपरवाइजर की बहाली में महिलाओं से व्यापक स्तर पर ठगी की गई है. नौकरी के नाम पर पैसे ऐंठने वाले ठग के द्वारा तकरीबन दो दर्जन से अधिक महिलाओं को ठगी का शिकार बनाया गया है. घटना के संबंध में बताया जाता है कि बुधवार की दोपहर तकरीबन 2:00 बजे कुछ महिलाएं सीवान कचहरी में किसी काम को लेकर पहुंची हुई थी। इसी दौरान महिलाओं से ठगी करने वाला शख्स गाड़ी में जाता हुआ दिखाई दिया। इसके बाद महिलाओं ने शोर मचाते हुए शख्स को रंगे हाथ पकड़ लिया.

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

इसके बाद अन्य दर्जनों महिलाएं उसकी घेराव कर शोर मचाने लगी। इसकी जानकारी जैसे ही नगर थाने की पुलिस को हुई जिसके बाद मौके पर पहुंचकर पुलिस ने शख्स को हिरासत में ले लिया. पूरी वारदात के संबंध में लकरी नवीगंज निवासी ठगी की शिकार हुई महिला आरती देवी,पिंकी देवी,आशा देवी,रंभा देवी,रेनू देवी,राधिका देवी,पिंकी सभी अलग-अलग गांव की रहने वाली महिलाओं ने बताया कि ठग के द्वारा उन्हें पच्चीस सौ रुपया मानसिक वेतन दिलाने की लालच पर मिनी आंगनबाड़ी सेविका के लिए इनके द्वारा किसी से एक लाख तो किसी से डेढ़ लाख रुपये लिया गया. हालांकि उनके बहाली के 3 वर्ष बीत जाने के बावजूद भी अब तक उनका वेतन नहीं मिला. महिला ने बताया कि मेरे जैसे जिले के रघुनाथपुर, लकड़ी नवीगंज आदि दर्जनों प्रखंडों के तकरीबन 2 दर्जन से अधिक महिलाओं को ठगी का शिकार बनाया गया है. अनुमान लगाया जा रहा है कि तकरीबन 16 लाख की ठगी हुई है.