दंपती के बीच सुलह समझौते में बाधक बना स्मार्टफोन

0
smartphone

परवेज अख्तर/सिवान : सिवान के मैरवा प्रखंड के इंग्लिश गांव में शनिवार को एक स्मार्टफोन दंपती के बीच दीवार बन गया। फोन के कारण दंपती के बीच आई दूरियां ग्राम कचहरी भी कम नहीं कर पाई और सुलह की कोशिश नाकाम हो गई। अंतत ग्राम कचहरी में बैठे लोगों ने अगली तिथि तय कर फिर से सुलह कराने की बात कही। दोनों पक्षों को सोचने का एक और मौका दिया गया। हालांकि ग्राम कचहरी में यह पहला प्रयास नहीं था। इसके पहले भी दोनों के बीच सुलह कराने की कोशिश की गई थी। बताते हैं कि इंग्लिश पंचायत के छट्ठू राम के टोला में लालू राम ने नौ महीने पहले अपनी मां के समक्ष अपनी पसंद की लड़की से शादी का प्रस्ताव रखा। इसके लिए उसकी मां तैयार नहीं हुई, लेकिन बाद में वह बेटे की पसंद को समझते हुए इसके लिए राजी हो गई। शादी के कुछ ही महीने बाद परिवार में आपसी मतभेद उत्पन्न हो गए। दांपत्य जीवन में आई तल्ख़ियां ने धीरे-धीरे पति-पत्नी के बीच दूरियां बढ़ा दी। घर के अंदर होने वाले झगड़े को पंचायती कर सुलझाने की कोशिश की गई। शनिवार को ग्राम कचहरी में विवाहिता अपने पति के साथ रहने की गुहार लगाने अपनी मां के साथ मायके से इंग्लिश पंचायत सरकार भवन में पहुंच गई। उसके पति और सास को भी बुलाया गया। सुलह-समझौते का प्रस्ताव तैयार हुआ। दोनों पक्ष इसके लिए तैयार हो गए, लेकिन इन प्रस्तावों में स्मार्ट फोन विवाहिता को रखने पर पाबंदी की बात भी शामिल थी। ग्राम कचहरी में तैयार समझौता पत्र में यह कहा गया था

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal