नवजातों के लिए वरदान साबित हो रहा सदर अस्पताल का एसएनसीयू

0
  • 143 नवजात जून में हुए भर्ती, एक की हुई मौत
  • 15 नवजात के भर्ती होने की व्यवस्था

✍️परवेज़ अख्तर/एडिटर इन चीफ:
सिवान सदर अस्पताल स्थित एसएनसीयू नवजात शिशुओं को नया जीवन देने का काम कर रहा है। खासकर वैसे गरीब घरों के बच्चों को जिनके अभिभावक निजी अस्पतालों में अपने नौनिहालों का इलाज मोटी रकम देकर कराने में असक्षम हैं। जून में सदर अस्पताल के एसएनसीयू वार्ड में 143 नवजात को इलाज के लिए भर्ती लिया गया, इसमें दो बच्चे गंभीर अवस्था में रेफर हुए जबकि एक बच्चे की मृत्यु हो गई। वार्ड में 15 बच्चों के भर्ती होने की व्यवस्था है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

एसएनसीयू के संचालन के लिए प्रशिक्षित नर्स एवं शिशु रोग विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती की गई है। यहां वैसे नवजात को भर्ती किया जाता है जो जन्म लेने के बाद उनकी हालत नाजुक होती है। यह वार्ड निजी अस्पतालों में जन्मे नवजातों के लिए भी जीवन रक्षक साबित हो रहा है।सदर अस्पताल के अधीक्षक डाक्टर इसराइल ने बताया कि बच्चों के लिए सदर अस्पताल का एसएनसीय वरदान साबित हो रहा है। जून माह में 143 बच्चे भर्ती हुए। इसमें मात्र एक बच्चे की मौत हुई।

साभार:दैनिक जागरण