स्टेट बैंक की घटना : सिवान शहर का चर्चित चीनी व्यवसाई राजेश कुमार का रुपयों से भरा थैला 30 सेकेंड में हुआ गायब

0
  • रैकी के बाद दिया गया चोरी की घटना को अंजाम, तीन की संख्या में थे चोर
  • चोरी के बाद 50 कदम की दूरी पर चल रहे थे पीड़ित और चोर
  • दो से तीन दिन पर बैंक में रुपए जमा करने आता था व्यवसाई

परवेज़ अख्तर/सीवान:
नगर थाना क्षेत्र के दहा नदी पुल के समीप स्थित भारतीय स्टेट बैंक के मुख्य शाखा से चोरों ने सीवान शहर का चर्चित चीनी व्यवसाई की 5.5 लाख रुपये की चोरी कर ली. चीनी व्यवसाई की पहचान नगर थाना क्षेत्र के दलदरी निवासी राजेश कुमार के रूप में की गई.घटना के संबंध में व्यवसाई से मिली जानकारी के अनुसार पीड़ित एक चीनी का व्यवसाई है और उसका दुकान गल्ला मंडी में है.वह दो से तीन दिन पर हमेसा बैंक जाते-आते रहता था. की इसी बीच शनिवार की दोपहर तकरीबन 11:30 बजे वह दुकान से रुपए जमा करने के लिए भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा आया.जहां बैंक के अंदर एक कुर्सी पर रुपए से भरा बैग रखकर किसी कर्मचारी के बारे में जानकारी लेने के लिए घूम कर बातें करने लगा. इसी बीच पहले से घात लगाए बैठे चोरों ने रुपए से भरे बैग लेकर चल बने.लेकिन व्यवसाई की नजर रुपए पर नहीं पड़ी.तकरीबन 30 सेकेंड बाद जब व्यवसाई की नजर अपना बैग पर पड़ी तो बैग गायब था और तो वह हल्ला करते हुए बैंक से नीचे उतरा.लेकिन चोरों का कहीं पता नहीं चल सका.इधर बैंक परिसर से रुपए चोरी होने की सूचना पर नगर इंस्पेक्टर जयप्रकाश पंडित, सराय ओपी प्रभारी तनवीर आलम, एसआईटी इंचार्ज उपेंद्र सिंह समेत कई पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और जांच में जुट गये.इधर व्यवसाई से रुपए चोरी की सूचना पर गल्ला मंडी के तकरीबन एक दर्जन से अधिक व्यवसाई घटनास्थल पर पहुंच गए.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
muskan buty

faisa bhra thaila gayab

सीसीटीवी के आधार पर की जा रही है पहचान

चोरी की घटना के बाद पुलिस चोरों की पहचान के लिए सीसीटीवी का फुटेज खंगालना शुरू कर दिया. फुटेज में  साफ-साफ दिख रहा था कि चोर व्यवसाई से पहले जाकर बैंक में बैठ गए थे और जैसे ही व्यवसाई ने अपना रुपए से भरा बैग रखा इसी बीच व्यवसाई के कुर्सी के पीछे बैठा चोर बैग लेकर फरार हो गया. पुलिस की मानें तो फुटेज में साफ साफ दिख रहा है कि चोर तीन की संख्या में थे और सभी तकरीबन 30 से 35 वर्ष के अंदर ही होंगे.इधर चोरी की घटना को अंजाम देने के बाद जब व्यवसाई हल्ला कर रहा था तभी तीनों चारों में से एक चोर फिर बैंक के तरफ आया और चलते बना.

50 कदमों की दूरी पर थे पीड़ित व चोर

चोरी की घटना को अंजाम देने के बाद जब चोर बैग लेकर भाग रहे थे इसी बीच पीड़ित चोर के पीछे हल्ला करते हुए बैंक से नीचे उतरा और मेन रोड पर आ पहुंचा लेकिन पीड़ित भारतीय स्टेट बैंक के मुख्य दरवाजे के समीप ही रह गया.तब तक चोर पीड़ित से 50 कदम की दूरी पर ही पटेल चौक के पहले ही जा रहे थे लेकिन पीड़ित नहीं देख सका. यह सारी घटनाएं सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है.