इलेक्शन ड्यूटी में लगे शिक्षक की हार्ट अटैक से मौत, तबीयत खराब होने के बावजूद नहीं मिली थी छुट्टी

0

पटना: बिहार पंचायत चुनाव के चौथे चरण में पटना के बिहटा प्रखंड के 22 पंचायतों में मतदान हुआ. हालांकि, इस दौरान इलेक्शन ड्यूटी में लगे शिक्षक की हार्ट अटैक आने की वजह से मौत हो गई. मृतक शिक्षक की पहचान थाना क्षेत्र के दोघड़ा छिलका निवासी मुंद्रिका प्रसाद के 40 साल के बेटे सुरदर्शन प्रसाद के रूप में हुई है. इधर, शिक्षक की मौत से आक्रोशित उसके साथियों और परिजनों ने गुरुवार को जमकर हंगामा किया. प्रखंड चुनाव अधिकारी पर छुट्टी नहीं देने का आरोप लगाते हुए बवाल किया गया. वहीं, परिजनों ने मुआवजे की मांग को लेकर बिहटा-औरंगाबाद मुख्य सड़क पर शव को रखकर जाम कर दिया और जमकर नारेबाजी की.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

बीती रात से ही खराब थी तबीयत

घटना के संबंध में बताया जाता है कि बिहटा के राघोपुर स्थित बाजार समिति के बने मतगणना केंद्र पर शिक्षक की ड्यूटी लगाई गई थी. इसी दौरान बुधवार की देर रात में उसकी तबीयत खराब होने लगी. ऐसे में अधिकारियों को जानकारी दी गई, लेकिन इसके बाद भी उसे छुट्टी नहीं दी गई. काम खत्म होने के बाद चुनाव कर्मी को गुरुवार के अहले सुबह दो बजे छुट्टी मिली. हालांकि, घर जाने के क्रम में रास्ते में हार्ट अटैक आने से उसकी मौत हो गई.

लोगों में काफी आक्रोश

बता दें कि मृतक शिक्षक कौरिया पाली के मध्य विधालय में 2003 से शिक्षक के रूप में पदस्थापित था, जिसकी पंचायत चुनाव में ड्यूटी लगाई गई थी. इसी क्रम में सुदर्शन प्रसाद की ईवीएम लेने के दौरान तबीयत खराब होने लगी और फिर दिल का दौरा आने से मौत हो गई. घटना के बाद मृतक की पत्नी उर्मिला देवी और तीनों बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल है. इधर, घटना के कई घंटे बीतने के बाद भी प्रखंड के चुनाव अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे, जिस कारण लोगों में काफी आक्रोश है. हालांकि, घटना के दो घंटे के बाद मौके पर पहुंचे बिहटा थाना अध्यक्ष ऋतुराज मृतक के परिजन एवं शिक्षक से बातचीत कर रहे हैं.