सिलाई सीख घर लौट रहीं ना‍बालिग से छेड़खानी, बदमाशों ने फाड़ दिए कपड़े

0

पटना: टिकारी थानांतर्गत मऊ ओपी क्षेत्र के एक गांव में नाबालिग से छेड़खानी का मामला प्रकाश में आया है। शिकायत मिलते ही पुलिस ने एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया, जबकि दो फरार अभियुक्‍तों को दबोचने के लिए छापेमारी चल रही है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

बदमाशों ने किशोरी के फाड़ दिए कपड़े

मिली जानकारी के अनुसार, गुरुवार की शाम पीडि़त किशोरी मऊ बाजार से सिलाई सीखकर गांव लौट रही थी। उसके सा‍थ दो सहेलियां भी थीं। मऊ के ही तीन युवक उनके पीछे लग गए और सुनसान जगह पर मौका पाकर छेड़खानी करने लगे। इस दौरान विरोध करने पर उन्‍होंने किशोर के कपड़े फाड़ दिए। किसी तरह तीनों लड़कियां बदमाशों की चंगुल से निकलकर घर पहुंचीं और स्‍वजनों से आपबीती सुनाई।

पिटाई में टूट गई महिला के हाथ की हड्डी

घर की बेटियों से छेड़खानी की बात सुनकर तीनों लड़कियों के स्‍वजन आग बबूला हो गए। वे गांव के कुछ लोगों के साथ मऊ पहुंचे और आरोपितों के घर में घुसकर मारपीट शुरू कर दी। इस दौरान एक महिला के हाथ की हड्डी टूट गई। उसे प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया। तब उस नाबालिग की मां ने थाने में शिकायत दर्ज कराई, जिसके कपड़े फटे थे। आरोपितों में महंगु चौधरी का बेटा संजय, पवन कुशवाहा का बेटा अंकुर और सैलून भगत का बेटा मुन्‍ना शामिल है।

पॉक्‍सो एक्‍ट के तहत दर्ज हुई प्राथमिकी

मऊ ओपी प्रभारी रंजन चौधरी ने बताया कि नाबालिग की मां के बयान पर तीनों आरोपितों के खिलाफ आइपीसी और पॉक्‍सो एक्‍ट की सुसंगत धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई। पुलिस ने सभी आरोपितों के घर छापेमारी की, लेकिन केवल संजय गिरफ्त में आ सका। उसे कोर्ट में पेश कराने के बाद न्‍यायिक हिरासत में अनुमंडल जेल भेज दिया गया है। अन्‍य दो आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए ताबड़तोड़ छापेमारी की जा रही है। वे जल्‍द पुलिस गिरफ्त में होंगे।