लालू यादव के दोषी करार होने पर बोले तेजस्वी- निराश होने की जरूरत नहीं, ऊपरी अदालत में देंगे चुनौती

0

पटना: चारा घोटाले के एक और मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव को सीबीआई की विशेष अदालत ने दोषी करार दिया है। 139.35 करोड़ रुपए के इस घोटाले में लालू यादव समेत 75 आरोपियों पर दोष सिद्ध हो गया है। लालू की सजा पर फैसला 21 फरवरी को होगा। इस बीच, लालू के बेटे और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने समर्थकों से फैसले को स्वीकार करने की अपील करते हुए कहा है कि वह ऊपरी अदालतों में इसे चुनौती देंगे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.16.03 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.24.37 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.13.39 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.18.57 PM

तेजस्वी यादव ने कहा, ”हर किसी को कोर्ट के फैसले को स्वीकार करना चाहिए। यह अंतिम फैसला नहीं है। 6 बार सजा सुनाई गई है। हम सभी केस में हाई कोर्ट गए। इसलिए यह अंतिम फैसला नहीं है। निश्चित तौर पर लालू जी दोषमुक्त होंगे। हाई कोर्ट के बाद सुप्रीम कोर्ट है।”

सीबीआई की विशेष अदालत ने लालू प्रसाद को 139.5 करोड़ रुपए के डोरंडा कोषागार गबन मामले में दोषी ठहराया तो 24 आरोपियों को सबूत के अभाव में बरी कर दिया है। अदालत ने 29 जनवरी को मामले में दलीलें सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। प्रसाद को इससे पहले चारा घोटाला के चार अन्य मामलों में 14 साल जेल की सजा सुनाई जा चुकी है।