कोचिंग जा रही सगी बहनों को ट्रक ने रौंदा, एक की मौत

0
accident me rote parijan

परवेज़ अख्तर/सीवान:- जिले के दारौंदा थाना क्षेत्र के मछौती मोड़ के आगे पेट्रोल पंप समीप एक तेज रफ्तार ट्रक ने कोचिंग जा रही दो छात्राओं को रौंद दिया जिसमें एक की मौत इलाज के क्रम में सदर अस्पताल में हो गई। वहीं दूसरे का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है। मृतका और घायल सगी बहने हैं। मृत छात्रा की पहचान विजय कुमार यादव की पुत्री बिंदा कुमारी (20) तथा घायल इंदु कुमारी (18) बताई जाती है। घटना के बाद मौके का फायदा उठाकर ट्रक चालक गाड़ी लेकर फरार हो गया। चिकित्सकों ने मौत का कारण अधिक रक्त स्त्राव बताया। दोनों कोचिंग करने जा रही थीं तभी पीछे से ट्रक ने इन्हें रौंद दिया। घटना के संबंध में बताया जाता है कि दारौंदा थाना क्षेत्र की मछौती गांव निवासी विजय कुमार यादव की दो पुत्री बिंदा कुमारी (20) एवं इंदु कुमारी (18) शनिवार की सुबह साइकिल से अपने घर से कोचिंग करने के लिए दारौंदा आ रही थीं। इसी बीच मछौता मोड़ के आगे धनौती पेट्रोल पंप के समीप पीछे से आ रहे ट्रक (बीआर-29जीए -1940) ने दो सगी बहन को रौंद दिया। इस घटना में बिंदा कुमारी बुरी तरह गंभीर हो गई। जबकि इंदु को आंशिक चोटें आईं। ग्रामीणों के सहयोग से दोनों घायल बहनों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में लाया गया जहां बड़ी बहन बिंदा कुमारी की मौत इलाज के क्रम में हो गई।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal
घायल इंदू कुमारी के साथ रोते बिलखते परिजन
घायल इंदू कुमारी के साथ रोते बिलखते परिजन

वहीं छोटी बहन इंदु कुमारी का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है। चिकित्सकों ने बताया कि बिंदा के शरीर का निचला हिस्सा पूरी तरह से कुचल गया था। इधर घटना की जानकारी जैसे ही परिजनों को हुई वे बदहवास स्थिति में सदर अस्पताल पहुंचे और रोने बिलखने लगे। घटना की सूचना मिलते ही नगर थाने में पदस्थापित अवर निरीक्षक मो. शाहिद ने मृत छात्रा बिंदा कुमारी के पिता विजय कुमार यादव का फर्द बयान लिया जिसमें ट्रक नंबर बीआर 29 जीए 1940 के अज्ञात चालक द्वारा लापरवाही पूर्वक अपनी पुत्री को धक्का मार देने का आरोप लगाया है। अवर निरीक्षक शाहिद अली ने बताया कि मृतका के पिता का फर्द बयान ले लिया गया है। आगे की कार्रवाई हेतु एवं प्राथमिकी दर्ज करने के लिए स्थानीय थाने को भेज दी गई है। बता दें कि मृतका बिंदा कुमारी दारौंदा में कौशल विकास योजना के अंतर्गत कंप्यूटर की पढ़ाई करने एवं छोटी बहन इंदु कुमारी एक प्राइवेट संस्था में कोचिंग करने के लिए अलग-अलग साइकिल से आ रही थीं। तभी धनौती पेट्रोल पंप के पास ट्रक ने उन्हें रौंद दिया। मृतका दो बहन थी और उसके दो भाई क्रमश: अनीश कुमार यादव एवं मनीष कुमार यादव है।