लूट की बाइक पहुंचाने आए तीन अपराधियों को ग्रामीणों ने पीटकर किया अधमरा

0
choro ki hui pitai

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के भगवानपुर हाट थाना क्षेत्र के चोरौली बाजार के समीप एनएच 101 पर रंगदारी लेकर लूट की बाइक पहुंचाने आए तीन अंतरजिला गिरोह के अपराधियों को ग्रामीणों ने पीट-पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। वहीं भीड़ से बचने के लिए अपराधियों ने हवाई फायरिंग कर लोगों में दहशत फैलाने की कोशिश की, लेकिन भीड़ ने सभी को पिटना शुरू कर दिया। इधर घटना की सूचना जैसे ही स्थानीय पुलिस को मिली थाने के अवर निरीक्षक शैलेंद्र कुमार राय एवं उमाकांत राय पकड़े गए अपराधियों के बीच बचाव के लिए मौके पर पहुंचे लेकिन इस दौरान वे भी घायल हो गए। वहीं घटनास्थल पर काफी अफरातफरी का माहौल रहा। बाद में घटना की सूचना पाकर स्थानीय कई जनप्रतिनिधि एवं प्रबुद्ध लोग पहुंचे और बीच बचाव कर मामले को शांत कराया। बाद में ग्रामीणों की पिटाई से घायल अपराधियों एवं पुलिसकर्मियों को इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया जहां सभी घायलों का इलाज चल रहा है।पुलिस ने घायल तीनों अपराधियों को हिरासत में लेकर पुलिस अभिरक्षा में इलाज कराया। गिरफ्तार अपराधियों में सारण जिले के जलालपुर थाना क्षेत्र के बेलकुंडा निवासी राहुल कुमार सिंह,छपरा नगर थाना क्षेत्र के दहियांवा निवासी रघु प्रसाद एवं लकड़ी नबीगंज ओपी नबीगंज निवासी इरफान आलम शामिल है। पुलिस ने इनके पास से एक अदद पिस्टल, एक जिंदा कारतूस एवं लूट की बाइक बरामद की है।pitai hui सूचना पर महाराजगंज के एएसपी संजय कुमार समेत कई पुलिस पदाधिकारी घटनास्थल से लेकर कई बिंदुओं पर जांच कर रहे हैं। घटना के संबंध में प्राप्त विवरण के अनुसार ग्रामीणों के हत्थे चढ़े अपराधियों ने क्षेत्र के एक व्यक्ति की पूर्व में बाइक लूट ली थी और उसकी बाइक को पीड़ित से पैसा लेकर पहुंचाने आए थे। उनके पहुंचने के पूर्व पीड़ित एवं ग्रामीण हाईटक ड्राम के अंदाज में अपराधियों को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन अपराधियों के भागने पर बवाल खड़ा हो गया। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि भागने के क्रम में अपराधियों ने फायरिंग कर डाली जिसके वजह से ग्रामीणों का गुस्सा और भड़क गया। इसके बाद अपराधियों को लोगों ने पकड़ कर पिटना शुरू कर दिया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

दो दारोगा ने सैकड़ों के हुजूम से बचाई तीन अपराधी की जान

भगवानपुर हाट थाना में पदस्थापित दो अवर निरीक्षकों की सतर्कता एवं साहस से मॉब लिंचिंग की घटना होते-होते बच गई। अगर पुलिस चोरौली की घटना में समय से नहीं पहुंचती तो शायद ग्रामीणों के हत्थे चढ़े तीनों शातिर अपराधी पिटाई में गंभीर रूप से घायल होकर भीड़ के आक्रोश का कोपभाजन बन जाते। ग्रामीणों का आक्रोश झेलकर भी अवर निरीक्षक शैलेंद्र कुमार राय एवं उमाकांत राय ने तीनों अपराधियों को आक्रोशित ग्रामीणों के चंगुल से निकाल लिया।