सेविकाओं ने मांगों को ले जताया विरोध, मांगों का ज्ञापन सीडीपीओ को सौंपा

0
perdarsan

परवेज अख्तर/सिवान:- लकड़ी नबीगंज मुख्यालय स्थित बाल विकास परियोजना कार्यालय के समक्ष आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका ने प्रखंड अध्यक्ष लालती देवी की अध्यक्षता में सात सूत्री मांगो को लेकर एक दिवसीय धरना दिया. धरने को संबोधित करते हुए सेविका-सहायिका संघ के प्रदेश अध्यक्ष पुष्पा पांडे ने कहा कि बिहार सरकार आंगनबाड़ी सेविका-सहायिकाओं को सरकारी कर्मचारी घोषित करते हुए 35000 हजार मानदेय लागू करें, पेंशन भत्ता के साथ-साथ गोवा दिल्ली और हरियाणा की भांति संपूर्ण व्यवस्था सुनिश्चित करें. उन्होंने कहा कि राज सरकार हम सेविका-सहायिकाओं के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है. जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. धरना को संबोधित करने वाले में सेविका संघ के पूर्व प्रखंड अध्यक्ष मंजू सिंह ने भी संबोधित कर बिहार सरकार एवं जिला प्रशासन पर सौतेला पन रवैया अख्तियार करने का आरोप लगाया और इसके बाद देर शाम सीडीपीओ उषा रानी मिश्रा के समक्ष अपनी मांगों का सात सूत्री पत्र सौंपा. सौंपने के बाद सेविका संघ के प्रखंड अध्यक्ष और प्रदेश अध्यक्ष पुष्पा पांडे का कहना था कि दिसंबर माह में अगर सरकार और जिला प्रशासन एवं स्थानीय प्रशासन न्याय नहीं दिया तो हम लोग चुप नहीं बैठेंगे और उग्र आंदोलन एवं भूख हड़ताल एवं सड़क पर उतरने को बाध्य होंगे. धरना में मुख्य रूप से अनिता देवी, अन्नु देवी, अर्चना देवी, राधा देवी, निर्मला देवी, गीता देवी, गीता यादव, सविता देवी, किरण देवी, आशा देवी, सरोज देवी, सुमन देवी, सीमा देवी, पुष्पा देवी, विद्या देवी, शोभा देवी, संगीता देवी, मनोरमा देवी, मीना देवी समेत सैकड़ों की तादाद में सेविका एवं सहायिका में शामिल थी.

विज्ञापन
aliahmad
vig
web designing