सिवान में ट्रक की चपेट में आने से शिक्षक की मौत पर पर गांव में पसरा सन्नाटा

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के भगवानपुर हाट थाना क्षेत्र के बिलासपुर पंचायत के सुघरी निवासी सेवानिवृत्त बीईओ सुरेश्वर प्रसाद सिन्हा एवं सेवानिवृत्त शिक्षिका मीरा सिन्हा के द्वितीय पुत्र अभिषेक कुमार की मौत शुक्रवार की शाम सिवान आंदर ढाला के समीप ओवरब्रिज के समीप अनियंत्रित ट्रक की चपेट में आने से हो गई। उनकी मौत के बाद स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। उनकी मौत के गांव में शोक का माहौल है। बताया जाता है कि बिहार सरकार द्वारा अभिषेक कुमार का हुसैनगंज प्रखंड के उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बंगरा उज्जैन में कंप्यूटर शिक्षक के पद पर एक माह पहले योगदान कराया गया था। वे विद्यालय से कुछ दूरी पर किराए के मकान में रहते थे। स्वजनों के अनुसार गुरुवार की शाम करीब पांच बजे विद्यालय में छुट्टी के बाद अपनी बाइक से आवास पर लौट रहे थे तभी आंदर ढाला ओवरब्रिज से कुछ दूरी पर अनियंत्रित ट्रक की चपेट में आ गए। इस दौरान ट्रक धक्का मारने के बाद कुछ दूरी तक घसीटता रहा जिससे उनकी मौत हो गई। अभिषेक कोलकाता से बीटेक एवं भोपाल से एमटेक की पढ़ाई किए थे। वे एसटीइटी भी पास कर कंप्यूटर शिक्षक के रूप में एक माह पूर्व शिक्षक बने थे। अभिषेक तीन दिसंबर को घर आए थे। वे तीन भाई में दूसरे नंबर पर थे। बड़ा भाई अनिमेष कुमार तथा छोटा भाई अभिजीत कुमार मशरख प्रखंड में शिक्षा विभाग में बीपीएम के पद पर कार्यरत हैं। अभिषेक की अभी शादी नहीं हुई थी। घटना की सूचना मिलने पर स्वजन सदर अस्पताल पहुंच शव का शिनाख्त किए तथा पोस्टमार्टम के बाद शव को गांव लाए। स्वजनों द्वारा शनिवार की सुबह दाह संस्कार कर दिया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

चचेरी बहन की डोली उठने से पहले उठ गई अभिषेक की अर्थी

भगवानपुर हाट अभिषेक के छोटे चाचा शैलेश सिंह की पुत्री की शनिवार को बरात आने वाली है। इसको लेकर घर को शुक्रवार से ही सजाया-संवारा जा रहा था। हलवाई मिठाई बनाने तथा स्वजन अन्य कार्यक्रम में जुटे हुए थे। घर के अंदर मंगलगीत गए जा रहे थे, कथा- मटकोर के अवसर पर गांव लोगों को खिलाने के लिए खाना बन रहा था तभी सूचना मिली कि अभिषेक सिवान में ट्रक से धक्का लगने से गंभीर रूप से घायल हो गया है। सभी परेशान हो उठे। बड़ा एवं छोटा भाई, पिता तथा अन्य स्वजन सिवान के लिए रवाना हो गए। जब वे सभी सिवान पहुंचे तो अभिषेक को मृत पाकर राेने लगे। इस प्रकार घर में चचेरी बहन की डोली उठने के पहले अभिषेक की अर्थी उठ गई। इससे माहौल गमगीन हो गया।