कल महाराजगंज में किसान बिल के विरोध में होगा नुक्कड़ सभा

0

परवेज अख्तर/सिवान:
स्थानीय शहर में सभी चौक चौराहों पर किसानों के आंदोलन के समर्थन में नुक्कड़ साभा का आयोजन किया जाएगा. उक्त कार्यक्रम की रूपरेखा शहर के मोहन बाजार में एनडीए को छोड़ सर्व दलीय बैठक में तैयार की गई. कार्यक्रम की अध्यक्षता राजद के बिहार प्रदेश के पूर्व सचिव अरबिंद गुप्ता ने की. बैठक में राजद, कम्युनिष्ट, कांग्रेस आदि दल के लोगों के राय पर किसान विरोधी बिल के विरोध में गांव-गांव गली-गली जाकर नुक्कड़ सभा साइकिल यात्रा पदयात्रा के माध्यम से सरकार के किसान विरोधी बिल को बताने का काम करने का फैसला लिया गया. 17 जनवरी को महाराजगंज शहर के चौक चौराहों पर नुक्कड़ साभा कर शुरुआत की जाएगी. मुंशी सिंह ने कहा कि दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन में अब तक 70 किसान शहीद हो गए है.इस कड़ाके की ठंड और बारिश में किसान अभी भी दिल्ली के आसपास डटे हुए हैं.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

अधिवक्ता रबिन्द्र सिंह ने कहा कहा कि किसानों की चुनी हुई सरकार किसानों के हित में बात नहीं कर रही है. किसानों को कष्ट हो रहा है. कांग्रेस के रमेश उपाध्याय ने कहा कि किसानों के अनुसार यह कृषि कानून अडानी अंबानी जैसे बड़े-बड़े पूजीपतियों के हित में बनाए गए हैं. सरकार इस कानून को वापस ले , अन्यथा हम गांव -गांव जाकर किसानों को आंदोलित होने के लिए यंत्र करेंगे. बैठक को संबोधित करते हुए माकपा के जनार्दन राम ने कहा कि किसान माननीय सर्वोच्च न्यायालय की भावना का सम्मान करते हैं लेकिन माननीय सर्वोच्च न्यायालय दो मुहा सांप जैसा काम न करें . हृदय यादव ने कहा कि माननीय न्यायालय द्वारा रिटायर्ड जज जो विभिन्न मोर्चे पर सरकार के लिए काम करते है उन्हें ही समझौता के लिए कमेटी गठित कर जिम्मेदार बनाया जाना बेमानी लगता है . बैठक के संचालन राजद नेता अरविंद गुप्ता ने किया बैठक में जोगिंदर सिंह, धनपत यादव, हृदयानंद यादव, नबी रसूल अंसारी,कांग्रेस नेता परशुराम सिंह, जनार्दन राम,अधिवक्ता रविंद्र सिंह, राजद नेता आनंद यादव, लल्लन ठाकुर, सुरेंद्र यादव विश्वनाथ प्रसाद कामरेड दयाशंकर द्विवेदी श्री राम प्रसाद राजेंद्र बारी उपस्थित थे.