डीपीआर में गश्ती दल दंडाधिकारी को मिला प्रशिक्षण

0
DPR

परवेज अख्तर/सीवान :- लोकसभा चुनाव को लेकर डीपीआर डिग्री कॉलेज के तत्वाधान में भवन में गश्ती दल दंडाधिकारी को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण में उनके दायित्व और जिम्मेदारी से अवगत कराया गया। बताया गया कि चुनाव में ईवीएम डिस्पैच और पीठासीन पदाधिकारी को ईवीएम उपलब्ध कराने में उनकी जिम्मेदारी अधिक है। प्रशिक्षण के दौरान सहायक नोडल पदाधिकारी एनुल हक ने सामाग्री का संग्रहण कैसे व कहाँ से किया जाएगा एवं आवंटित बूथों पर ससमय संबंधित सामाग्री कैसे उपलब्ध कराया जाएगा, की जानकारी दी गई। साथ ही संबंधित चुनावी प्रपत्रों की बारीकियों से भी अवगत कराया गया।Gasti dal चुनाव संपन्न होने के पश्चात सभी आवंटित बूथों से निर्वाचन सामाग्री अधिग्रहण कर पीठासीन के साथ वज्रगृह पहुंचाना सुनिश्चित करने की जानकारी दी गयी। सहायक नोडल मास्टर ट्रेनर राकेश कुमार व अमित कुमार वर्मा ने बताया कि चुनाव के दौरान आवंटित बूथों पर गश्ती लगाने के साथ-साथ सेक्टर मजिस्ट्रेट को समय-समय पर मतदान से संबंधित सूचना देने की जिम्मेवारी भी गश्ती दल अधिकारी की होती है। प्रशिक्षक मुकेश कुमार ने कंट्रोल यूनिट, बैलेट यूनिट, वीवीपैट डिसप्ले मशीन, ओपन पैकेट, स्टेच्यूट्री नन स्टेच्यूट्री पैकेट, मतदान पदाधिकारियों के कर्त्तव्य, इडीसी, पोस्टल बैलेट, प्रॉक्सी वोटर, शिथिलांग वोटर के साथी द्वारा मतदान, चैलेंज वोट, निविदत वोट, मतदान केंद्र की व्यवस्था, गश्ती दल दंडाधिकारी के कार्य आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी। बता दें कि डीपीआर में चुनाव कर्मियों का प्रशिक्षण कार्य नोडल मास्टर ट्रेनर रितेश कुमार व विजय कुमार के दिशा-निर्देश में संचालित किया जा रहा है। मौके पर सहायक नोडल मास्टर ट्रेनर राजेश कुमार सिंह, निशिकांत श्रीवास्तव, ध्रुवजी प्रसाद, सुनील कुमार मिश्र, रविंद्र किशोर, दिलीप सिंह, गुंजन श्रीवास्तव, अशोक कुमार मिश्र, ओम प्रकाश पांडेय, राजकिशोर बैठा, संजय गुप्ता, राजीव रंजन तिवारी आदि प्रशिक्षण कार्य में सक्रिय भूमिका में दिखें।