दो दिन पहले मद्य निषेद विभाग के अपर मुख्य सचिव ने जहां की बैठक वहीं से मिली शराब की खाली बोतलें….

0

पटना: बिहार में शराब की खाली बोतलें मिलने का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। कभी दरभंगा के समाहरणालय में तो कभी महुआ थाना परिसर में तो कभी विधानसभा में…हद तो तब हो गयी जब दो दिन पहले जहां मुजफ्फरपुर के समाहरणालय में के.के.पाठक ने शराबबंदी को लेकर बैठक की वहां आज खाली शराब की बोतल मिली।ताजा मामला मुजफ्फरपुर के कलेक्ट्रेट परिसर का है जहाँ परिसर के अंदर शराब की खाली बोतलें मिलीं है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
metra hospital

इस संबंध में सब इंस्पेक्टर अमर राज ने बताया कि परिसर में 180ml की शराब की चार खाली बोतलें मिली है. बोतल को जब्त कर लिया गया है. वहीं आगे की कार्रवाई जारी है. आपको बता दें कि इसी सभागार में कल केके पाठक ने शराबबंदी कानून को लेकर मीटिंग भी की थी. ऐसे में मीटिंग के अगले ही दिन शराब की खाली बोतलें मिलना कहीं न कहीं पुलिस प्रशासन पर सवालिया निशान खड़ा कर रहा है।