निबंध प्रतियोगिता में विजई छात्र-छात्राओं को किया गया सम्मानित

0
nibandh

परवेज अख्तर/सिवान:- दयानंद आयुर्वेदिक स्नातकोत्तर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल के महाविद्यालय सभागार में विश्व आयुर्वेद परिषद द्वारा राष्ट्रीय स्तर की निबंध प्रतियोगिता की पटना में पुरस्कार वितरण समारोह में विजयी महाविद्यालय के छात्र छात्राओं को सम्मानित करने के लिए एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया इस कार्यक्रम में महाविद्यालय के शासी निकाय के अध्यक्ष एवं सिवान सदर विधायक व्यास देव प्रसाद एवं महाविद्यालय के प्राचार्य और सीसीआईएम सदस्य डॉक्टर प्रजापति त्रिपाठी जी ने संयुक्त रुप से विजय प्रतिभागियों को मेडल और स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया । अपने संबोधन में अध्यक्ष महोदय एवं प्राचार्य महोदय ने संयुक्त रूप से बताया कि विश्व आयुर्वेद परिषद राष्ट्रीय स्तर की एक संघ द्वारा संचालित संस्था है जो निरंतर आयुर्वेद के विकास हेतु कार्य करती है इसकी शाखा अनेक देशों एवं सभी राज्यों में आयुर्वेद के लिए कार्य कर रही है विश्व आयुर्वेद परिषद की बिहार इकाई के द्वारा पटना में आयोजित राष्ट्रीय स्तर पर सेमिनार एवं आयुर्वेद से संबंधित निबंध प्रतियोगिता का आयोजन पटना में 4 जनवरी और 5 जनवरी को किया गया था आपको यह जानकर खुशी होगी कि राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित इस निबंध प्रतियोगिता में आपके महाविद्यालय की तृतीय व्यवसाईक की छात्रा स्वर्णा श्रेया को प्रथम पुरस्कार गोल्ड मेडल एवं दस हजार रुपए का चेक बिहार सरकार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी जी एवं भारतीय केंद्रीय चिकित्सा परिषद, (सीसीआईएम) दिल्ली के अध्यक्ष के द्वारा देकर पुरस्कृत किया गया साथ ही निबंध प्रतियोगिता में हमारे अन्य छात्र-छात्राओं को भी पुरस्कृत किया गया इस क्रम में सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेने वाले हमारे महाविद्यालय के छात्र छात्राओं का प्रदर्शन सराहनीय रहा जिन्हें आज महाविद्यालय के तरफ से मेडल एवं स्मृति चिन्ह देकर पुरस्कृत किया गया। विदित हो कि विश्व आयुर्वेद परिषद के प्रांत इकाई के संरक्षक दयानंद आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर प्रजापति त्रिपाठी जी है तथा उक्त कार्यक्रम के कार्यक्रम अध्यक्ष भी वही थे उक्त कार्यक्रम की सफलता में इस महाविद्यालय के प्राध्यापक प्रोफेसर डॉ योगेंद्र नाथ पांडेय, प्रोफेसर डॉ मनोज मिश्रा, डॉ सुधांशु शेखर त्रिपाठी, डॉक्टर सौरभ पाल, डॉक्टर एसएन सिंह सहित छात्र एवं छात्राओं का विशेष योगदान रहा जिसकी प्रशंसा उन्मुक्त कंठ से कार्यक्रम में उपस्थित माननीय उपमुख्यमंत्री श्री सुशील कुमार मोदी जी, सीसीआईएम के अध्यक्ष, विश्व आयुर्वेद परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष गुप्ता जी एवं अन्य प्रदेशों से आए पदाधिकारी गणों के साथ अन्य विद्वानों ने भी किया। इस अवसर पर महाविद्यालय के प्रोफेसर डॉक्टर उपेंद्र कुमार पर्वत, डॉक्टर राजा प्रसाद, डॉक्टर पूजा त्रिपाठी, डॉक्टर विजय गणेश ,प्रकाश पांडेय, सुधीर द्विवेदी, धीरज तिवारी, राघवेंद्र उपाध्याय, दीपक यादव सभी शिक्षक शिक्षकेतर कर्मचारियों के साथ सभी छात्र छात्राएं उपस्थित रहे। मंच संचालन प्रोफेसर डॉक्टर योगेंद्र नाथ पांडेय और डॉ सुधांशु शेखर त्रिपाठी ने किया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
vigyapann
ads