पचरुखी में अतिक्रमण के विरुद्ध ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

0
dharna

सरकार की चार बीघा की पोखरे के भूमि पर अतिक्रमणकारियों ने जमाया कब्जा, निर्माण करा रहे मकान

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के पचरुखी प्रखंड के चांदपुर गांव में शनिवार की सुबह स्थानीय ग्रामीणों ने सरकारी पोखरे की 4 बीघा 17 कट्ठा 7 धुर की भूमि पर अतिक्रमण के विरुद्ध जोरदार बिरोध किया. ग्रामीण भुटेली यादव, शंकर चौधरी, रमेश यादव, नितेश यादव, प्रमोद यादव, मनीष चौधरी आदि दो दर्जन से अधिक ग्रामीणों ने विरोध जताते हुए बताया कि हमारे गांव चांदपुर में खाता 221 सर्वे 431 और 432 पोखरा भिन्डा व 430 गड्ढा है. जिसमें गांव के ही कुछ असामाजिक तत्व लोग मिट्टी भरकर जबरन मकान निर्माण करा रहे है.

जबकि इसी में सामने सरकारी स्कूल राजकीय प्राथमिक विद्यालय चांदपुर है स्कूल और पोखरा का ओभर पानी इसी गड्ढा से होकर गिरता है. उन्होंने अपनी आवेदन में यह भी बताया है कि साल 2018 से अतिक्रमणकारियों द्वारा इसपर अतिक्रमण कर रहे है. भूमि पर अवैध कब्जे के खिलाफ केस भी चल रहा है. अतिक्रमणकारियों के खिलाफ सरकार के द्वारा तीन बार नोटिस भी जारी हो चुका है. लेकिन अब तक किसी प्रकार की कानूनी कार्रवाई नहीं हो पाई है. ग्रामीणों ने बताया कि चांदपुर प्राथमिक विद्यालय, सर्वे नंबर 430 गड्ढा, 431 और 32 पोखरा और भिन्डा यह सभी भूमि सरकार का है.

कार्यालय अंचलाधिकारी के यहां से जारी हुआ था नोटिस

कार्यालय अंचलाधिकारी पचरुखी के द्वारा पोखरे के सरकारी भूमि पर कब्जा जमा रहे अतिक्रमणकारियों के विरुद्ध 18 सितंबर 2018 तक कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था. जिसमें अंचलाधिकारी पचरुखी के द्वारा कहा गया था कि आवेदिका फूलकुमारी देवी पति पृथ्वीनाथ यादव ग्राम चांदपुर के द्वारा प्राप्त आवेदन पर सम्बंधित राजस्व कर्मचारी व अंचल निरीक्षक के जांचोपरांत अंचल अमीन से पैमाइस कराई गई. अंचल अमीन द्वारा प्रतिवेदत किया गया है कि मौजा चांदपुर थाना न. 407 सर्वे न. 432 गैरमजरूआ मालिक किस्म भिन्डा की भूमि पर आप सभी के द्वारा नाद, खुंटा, पलानी अस्थाई रूप से रास्ता बाधित करने की बात बताई गई थी.