संचालक के सीने पर फायरिंग कर किया लूट का प्रयास

0
csp

ग्रामीणों की दौड़ने पर भाग खड़े हुए अपराधी

एक बाइक पर सवार थे तीन हथियारबंद अपराधकर्मी

तरवारा-महाराजगंज मुख्य मार्ग की है घटना

परवेज़ अख्तर/सीवान:- सुशासन बाबू की सरकार की पुलिस आखिर कब जगेगी! यह सवाल अपने आप में जन्म दे रही है? कनीय पुलिस पदाधिकारी के निष्क्रियता पर पुलिस जगत के आला अधिकारी भी बेबस दिख रहे है। आखिर आला अधिकारी क्यों बेबस है यह समझ से परे है ? इन दिनों सीवान में अपराधी सक्रिय हो गए है।अपराधियों के सामने पुलिस बौनी साबित हो रही है।लोग भय व दहशत के माहौल में जीने को मजबूर है।और सरकार और उनके पुलिसकर्मी अपराध मुक्त बिहार बनाने का दावा कर रहे है। लेकिन दिन पे दिन बढ़ रहे अपराध से उनके दावे खोखले साबित हो रहे है। या इसे यूँ कहा जा सकता है की “जो लोग दिन भर फूलों को पैरों तले कुचल कर चलते हैं और शाम के समय में चमन की रहनुमाई का दावा करते हैं।”उनसे उम्मीद लगाना बईमानी कही जायेगी।इसी कड़ी में जिले के महाराजगंज थाना के तरवारा-महाराजगंज मुख्य मार्ग के बंगरा – तेवथा के बीच मंगलवार की तड़के एक बाइक पर सवार तीन बेख़ौफ़ हथियारों से लैश अपराधियों ने एक सीएसपी संचालक से नाट्कीय ढंग से लूट की घटना को अंजाम देने की कोशिश की।परंतु संचालक द्वारा हो-हल्ला करने पर अपराधियों के मनसूबे पर पानी फिर गया।उधर बौखलाए अपराधियों ने तबातोड़ सीएसपी संचालक पर फायर झोंक दी।जिसमें सीएसपी संचालक बाल -बाल बच गए। पीड़ित संचालक जो महाराजगंज थाना क्षेत्र के तेवथा गांव का संदीप कुमार बताया जा रहा है।बतादें की संदीप अपने केंद्र पर ग्राहकों को देने के लिए बैग में रुपये लेकर अपने सीएसपी केन्द्र मंगलवार की तड़के जा रहा था।choro ki bike की तभी पूर्व से घात लगाए बैठे अपराधियों ने लूट की घटना को अंजाम देने की कोशिश की। घटना के संदर्भ में पीड़ित सीएसपी संचालक संदीप कुमार के अनुसार मैं किराये के मकान में सीएसपी केंद्र चलाता हूं। रुपये लेकर सीएसपी केन्द्र जा रहा था।की तभी बाइक सवार तीन अपराधियों ने पीछे से ओवरटेक कर पास में रखे रुपयों से भरा बैग को लूटने का प्रयास किया।जब मैं इसका विरोध शुरू किया तो अपराधियों ने पास में रखे पिस्टल से फायर शुरू कर दी।किसी तरह अपनी जान बचाकर घटनास्थल से भाग खड़े हुए। उधर गोली की आवाज सुनकर ग्रामीण घटनास्थल की तरफ दौड़े पड़े।ग्रामीणों की दौड़ने की आहट सुन कर घटना को अंजाम देने वाले अपराधी जो अपनी मोटरसाईकिल छोड़ फरार हो गये।बाद में सैकड़ों की संख्या में घटनास्थल पर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी।लेकिन घटना को अंजाम देने वाले अपराधी मौके का लाभ उठाकर फरार हो गए।लोगों ने उनकी बहुत तलास की परंतु उनका कोई सुराग नही लगा। बाद में पीड़ित संचालक संदीप कुमार ने घटना की सूचना स्थानीय थाना महाराजगंज थाना प्रभारी सह इंस्पेक्टर श्री निरंजन कुमार चौरसिया को दी।सुचना पाकर श्री चौरसिया दल- बल व अन्य पुलिस पदाधिकारी के साथ मौके वारदात पर पहुँचे।और मामले की गहनता पूर्वक जांच प्रताल की।उधर पुलिस ने पीड़ित संचालक संदीप कुमार के मौखिक बयान के आधार पर अपराधियों के हुलिया के अनुसार छापेमारी शुरू कर दी है।लेकिन खबर लिखे जाने तक पुलिस अपराधियों के गिरेबान तक पुलिस पहुँचने में कोशो दूर नजर आ रही है।लेकिन पुलिस अपराधियों की पहचान कर गिरफ्तार कर लेने का दावा कर रही है।apradhi

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
vigyapann
ads

क्या कहते है अधिकारी

बरामद मोटरसाईकिल के आधार पर पहली अनुसंधान व अपराधियों के हुलिया के आधार पर छापेमारी इलाके के सन्दिग्ध ठिकानों पर जारी है।जल्द ही जल्द घटना का खुलासा कर लिया जायेगा।

श्री निरंजन कुमार चौरसिया थाना प्रभारी, महाराजगंज