पटना में RJD के खिलाफ किसने लगाए ये पोस्टर? लालू यादव को बताया महाराज तो राबड़ी देवी को राजमाता

0

पटनाः राजधानी पटना की सड़कों पर आरजेडी (RJD) के खिलाफ कई पोस्टर लगाए गए हैं. हालांकि इस पोस्टर को किसने लगवाया है इसके बारे में नहीं बताया गया है. एक तरफ आज आरजेडी की तरफ से इफ्तार पार्टी का आयोजन हो रहा है तो दूसरी ओर पोस्टर वार शुरू हो गया है. पोस्टर पर जिस तरह की बातें लिखी गई हैं उससे यह तो साफ है कि लालू परिवार और आरजेडी के विरोधियों ने इसे पटना में कई जगहों पर लगाया है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

दरअसल, इफ्तार पार्टी के लिए पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव की तरफ से आमंत्रण भेजा गया है. राबड़ी देवी के 10 सर्कुलर आवास पर आज होने वाले इस आयोजन के पहले पोस्टर के जरिए सियासत गरमा गई है. इसमें पोस्टर के जरिए तेजस्वी यादव की तरफ से किए जा रहे ए टू जेड वाले समीकरण की हवा निकालने की कोशिश की गई है.

पोस्टर में लालू प्रसाद यादव को महाराज, राबड़ी देवी को राजमाता, तेजस्वी और तेज प्रताप को राजकुमार और मीसा भारती को राजपुत्री बताया गया है. पोस्टर पर ए टू जेड फैमिली पार्टी का कैप्शन दिया गया है. साथ ही इस पोस्टर में आरजेडी के कई वरिष्ठ नेताओं को भी जगह दी गई है. पोस्टर पर कई बातें लिखी गई हैं. “इनका उसूल है, जब तक काम है तब तक नाम है, बाकी दूर से ही सलाम है.” दूसरी लाइन है, “इन परिवारों के खेल पुराने हैं, कुर्सी पाने में पहले अपने बाकी सब बेगाने हैं.”

पोस्टर को लेकर आरजेडी ने क्या कहा?

आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि बोचहां में बंपर जीत मिलने के बाद अब विरोधी पोस्टर लगा रहे हैं. तेजस्वी यादव के तूफान में पोस्टर वार से क्या फायदा? पहले अपनी पार्टी और अपनी सरकार बचाएं. पोस्टर लगाने से कोई फायदा नहीं है. बोचहां चुनाव में भी इसी तरह का कैसेट एनडीए के लोग बजा रहे थे. एनडीए का पहिया पंचर हो गया है.