बिहार में 1600 दारोगा को नहीं मिल रही सैलरी, 3 महीने से कर्ज लेकर चला रहे घर

0

पटना: बिहार के 2018 बैच के प्रशिक्षु पुलिस अवर निरीक्षकों का तीन महीने से वेतन भत्ते आदि की निकासी नहीं हो रही है. इतने लम्बे समय से वेतन बंद होने से सभी अवर निरीक्षक आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं और कई कर्ज में दूब गए हैं. 2018 बैच के लगभग 1600 से अधिक की संख्या में प्रशिक्षु पुलिस अवर निरीक्षक बिहार के विभिन्न थानों में प्रतिनियुक्त हैं. इससे पहले ये जुलाई 2019 से राजगीर स्थित बिहार पुलिस अकादमी में संस्थानिक प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे थे.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

दरअसल, कोविड-19 वायरस वैश्विक महामारी के कारण सभी की प्रतिनियुक्ति बिहार के विभिन्न थानों में कर दी गई है, जहां अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर रहे हैं. इन सभी प्रशिक्षुओं के वेतन की निकासी सितम्बर 2020 से नहीं हो रही है, जिससे उन्हें आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. उक्त प्रशिक्षुओ की आर्थिक स्थिति दयनीय हो गई है.

बिहार के काफ़ी संख्या में प्रशिक्षु अवर निरीक्षक बिहार पुलिस एसोसीएशन के प्रदेश अध्यक्ष मृत्युंजय कुमार सिंह को फ़ोन कर पुलिस मुख्यालय से वेतन निकासी हेतु अनुरोध करने को बोल रहे हैं. इस संबंध में अध्यक्ष मृत्युंजय सिंह ने पत्र लिख कर साथ जेड खान कोषाध्यक्ष पुलिस मुख्यालय में पुलिस महानिदेशक एसके सिंघल से मिलकर वेतन निकासी के लिए पहल कर के निकासी का मांग की है. पुलिस महानिदेशक ने मामले को संज्ञान में लेकर तत्काल निकासी का आश्वासन दिया है.