सीवान में 26 वर्षीय युवक की तेजाब डालकर हत्या, 2 दिन पूर्व से था लापता, इलाके में सनसनी

0
  • मृतक वेल्डिंग का काम कर परिवार का करता था लालन- पोषण
  • मृतक के 3 वर्षीय पुत्र युवराज के जीवन पर लगा ग्रहण, अब कौन करेगा लालन- पोषण
  • चँवर में घोंघा चुनने वाले युवकों ने शव देख मचाया था शोर
  • शव की पहचान के बाद पुलिस ने दी थी परिजनों को सूचना
  • घटना :- जामो थाना क्षेत्र के हेतिमपुर गांव का

परवेज़ अख्तर/सीवान:- जिले के जामो बाजार थाना की पुलिस ने ग्रामीणों की सूचना पर पानी मे तैरते हुए एक 26 वर्षीय युवक का शव रविवार की दोपहर हेतिमपुर गांव के चँवर से बरामद किया है।जो दो दिन पूर्व घर से लापता था।शव बरामदगी के पश्चात इलाके में सनसनी फैल गई है।मृतक की पहचान इसी थाना क्षेत्र के हरिहरपुर कला गांव निवासी धनोज राम(26 वर्ष) के रूप में की गई है।जो नारायण राम का बेटा बताया जाता है।स्वजनों ने बताया कि 2 दिन पूर्व वह साइकिल बनाने के लिए अपने घर से निकला हुआ था।लेकिन वह घर नहीं लौटा। घर नहीं लौटने पर परिजनों ने उसकी काफी खोजबीन की परंतु उसका कहीं सुराग नहीं लगा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
ads

बताया जाता है कि हेतिमपुर गांव के चँवर में आसपास के युवक घोंघा चुन रहे थे कि इसी बीच घोंघा चुनने वाले युवकों की नजर पानी मे तैरते शव पर पड़ी तो युवक पानी में तैरते शव को देख भौंचक रह गए।बाद में युवकों ने शोर मचाना शुरू किया।युवकों के शोरगुल की आवाज सुनकर धीरे-धीरे ग्रामीण घटनास्थल पर इकट्ठा होने लगे।जहां बाद में ग्रामीणों ने इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी। सूचना पाकर पहुंची पुलिस टीम ने शव को ग्रामीणों के सहयोग से काफी मशक्कत के बाद पानी से निकाला।शव निकलने के बाद पुलिस ने ग्रामीणों के निशानदेही पर शव की पहचान धनोज राम के रूप में की है।और उसके परिजनों को सूचित किया।परिजनों के पहुँचने के बाद पुलिस ने पंचनामा के आधार पर शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए सिवान सदर अस्पताल भेज दिया।

यहां ड्यूटी पर तैनात सिवान सदर अस्पताल के चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर अहमद अली ने प्रथम दृष्टया में मृतक को तेजाब डालकर व बेरहमी से पिटाई कर हत्या का कारण बताया है।उधर घटना के बाद से मृतक की पत्नी रविता देवी, मां भागमनी देवी, पिता नारायण राम ,भाइयों में क्रमशः मनोज राम व रमेश राम,बहनों में क्रमश उमा देवी, सरस्वती देवी,संगीता देवी का रोते-रोते बुरा हाल है।उसकी पत्नी रविता देवी को क्या मालूम कि मेरे पति मुझे  ठुकरा कर जिंदगी के उस दहलीज पे ले जाकर छोड़ डालेंगें जहां मेरे  रिमझिम आंखो के आंसू ही सूख जाएंगे।निर्दयी हत्यारा मृतक के 3 वर्षीय पुत्र युवराज कुमार के जीवन पर प्रश्नचिन्ह लगा दिया है ?अब उसके लालन- पोषण कौन करेगा ?मृतक बाहर में वेल्डिंग का काम कर अपने परिवार का भरण पोषण करता था।

मृतक के भाई रमेश कुमार ने बताया कि 3 माह पूर्व गांव के ही हजारी मांझी के घर से पैसे के लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था।इसी क्रम में हजारी मांझी तथा उनके परिजनों ने मेरे भाई को अंजाम भुगतने की धमकी दी थी।मुझे पूर्ण रुप से विश्वास है कि हजारी मांझी ने अपने परिजनों संग मिलकर मेरे भाई की बेरहमी से हत्या कर साक्ष्य मिटाने के उद्देश्य से उसके शव को हेतिमपुर गांव के चँवर में फेंक दिया है। इस संदर्भ में जामो थाना पुलिस के पूछे जाने पर कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया।पुलिस द्वारा बताया गया कि परिजनों द्वारा अभी लिखित शिकायत नहीं दी गई है। लिखित शिकायत मिलने पर प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।उधर जैसे ही धनोज का शव पोस्टमार्टम के बाद उसके पैतृक गांव हरिहरपुर कला पहुंचा तो परिजनों के हृदय विदारक चीत्कार से गांव में कोहराम मच गया।पत्नी रविता देवी रोते-रोते बेसुध होते जा रही थी।वहीं मृतक के पिता नारायण राम का रोते-रोते बुरा हश्र हो चुका है।वहीं बहनों में क्रमशः उमा देवी, सरस्वती देवी,तथा संगीता देवी शव को देख-देख फफक- फफक रो रही थी।वही शोकाकुल परिजनों को ग्रामीण सांत्वना देने में लगे हुए थे।