एक साल बाद भी नहीं बना जंक्शन पर वातानुकूलित वेटिंग रूम

0

परवेज अख्तर/सिवान:
यात्री सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए रेलवे विभाग ने एक साल पूर्व सिवान जंक्शन पर वातानुकूलित वेटिग रूम बनाने का निर्णय लिया था। इसके लिए जंक्शन के प्लेटफॉर्म संख्या एक व चार के बीच पुराने पर्सल भवन पर जगह भी आवंटित कर दी गई थी। वहीं विभाग के आदेश पर पुराने जर्जर पार्सल भवन को तोड़कर भूमि को भी समतल कर दिया गया है। लेकिन आदेश के एक साल बाद भी निर्माण कार्य अभी तक नहीं किया गया। वहीं विभाग की मानें तो इसका टेंडर हो गया है, लेकिन फंड नहीं मिलने की वजह से कार्य में देरी हुई है। बता दें कि इसके निर्माण में लगभग एक करोड़ रुपए की लागत आने की संभावना है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

इसकी सुविधा ट्रेनों में पहली श्रेणी के टिकट पर यात्रा करने वाले यात्रियों को मिलेगी। यात्रियों के बैठने के लिए यह बड़ा यात्री प्रतीक्षालय होगा। इस वेटिग रूम की लंबाई और चौड़ाई 200 वर्गफीट होगी। बता दें कि अब तक जंक्शन पर वातानुकूलित वेटिग रूम नहीं होने के कारण हर वर्ग के यात्रियों को एक ही विश्रामालय में ठहरने की व्यवस्था जंक्शन के अधिकारियों द्वारा की गई है। लेकिन इस वातानुकूलित वेटिग रूम के बन जाने के बाद जंक्शन पर यात्रियों को ए श्रेणी के तहत सारी सुविधाएं मिलने लगेंगी।

कहते हैं अधिकारी

जंक्शन पर वातानुकूलित वेटिग रूम बनेगा। इसका टेंडर हो गया है, लेकिन फंड नहीं मिलने की वजह से अभी काम रुका हुआ है। फंड मिलते ही कार्य पूरा करा लिया जाएगा।

राकेश कुमार, सीएचआइ, सिवान जंक्शन।