बड़हरिया: बभनबारा शरीफ के उर्सपाक में उमड़ी, सजदा के लिए घंटों खड़ी रही अकीदतमंदों की भीड़

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के बड़हरिया प्रखंड की हरदोबारा पंचायत के बभनबारा शरीफ में हर साल की तरह इस वर्ष भी कुर्बानी के छह दिनों बाद हज़रत कुतुबुल हिंद अबुल खैर गुलाम मोइनुद्दीन रहमतुल्लाह अलैहे के मजार-ए-पाक पर उर्स में हजारों अकीदतमंदों की भीड़ उमड़ी. यह उर्स खानकाहे रशीदिया जौनपुर के सजादा नशींं हज़रत वौबैदुर रहमान जौनपुरी की सरपरस्ती में आयोजित हुआ.विदित हो कि इसमेंं भारी संख्या में श्रद्धालुओं ने नियाज, फातिहा व चादरपोशी कर अपनी अकीदा पेश की.बता दें कि इस मौके पर बिहार के सीवान, छपरा, आरा, गोपालगंज, दरभंगा सहित यूपी के जौनपुर, बलिया, बनारस, देवरिया,झारखंड आदि से प्रत्येक उर्स में कुतुबुल हिंद गुलाम मोइनुद्दीन के मुरीद आते हैं व मन्नत मांगते हैं.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

और मन्नतें पूरी होने फातिहा व चादरपोशी करते हैं. सजादा नशीं वोबैदुर रहमान जौनपुरी के नुमाइंदा मौलाना नूर आलम ने बताया कि हज़रत के मुरीदैन लाखों की संख्या में पूरे भरत मे फैले हुए हैं. सभी मुरीदैन उर्स में शिरकत फ़रमाते हैं व दुआएं मांगते हैं. उन्होंने बताया कि हर वर्ष दो हजार की संख्या में सिलसिला रशीदिया के मुरीदैन में इजाफा होता है. बभनबारा शरीफ निवासी शायर सनाउल हक ने बताया कि कुतबुल हिंद के दादा हजरत नूरुलहक हैदरब्शक्श (दादा पीर) बभनबारा शरीफ तशरीफ़ लाये थे.

उन्होंने बभनबारा शरीफ की बस्ती को पसंद किया व अपनी खानकाह( आधात्यामिक केंद्र) स्थापित किया. दीवान मोहम्मद रशीद जौनपुरी ने खानकाहे रशीदिया कायम किया. उन्हीं से यह सिलसिला चलते आ रहा है. समिति के सदस्य इस उर्स की निगरानी करते हैं. इस अवसर पर समिति के सदस्य उमैरुल हक, मुखिया फसीहुज्जमा,फिरोज आलम, खुर्रम अहैया, सेराज अहमद, पूर्व जिला पार्षद सोहैल अहमद, कमरान आलम, वसीमुज्मा, जकीउजम्मा, वाजिदुल हक,वाजुल हक,अफजल अहमद,गुलाम मुस्तफा,नौशाद आलम,अंजार अहमद सहित दर्जनों समिति सदस्य जायरीनों व अकीदतमंदों की मदद करते नजर आये.