बड़हरिया: डीपीओ स्थापना कार्यालय में बड़हरिया के चयनित अभ्यर्थियों ने किया जमकर हंगामा

0
mang
  • डीपीओ स्थापना पर लगाया नियोजन रद्द करने की साजिश का आरोप
  • पोर्टल पर नाम चढ़ाने के अनुरोध को दरकिनार कर करते रहे दिगभ्रमित
  • जानबूझकर पिछले व तीसरे चरण में भी नियोजन से रखा जा रहा वंचित

परवेज अख्तर/सिवान: जिले में छठे चरण में हुए शिक्षक नियोजन में बड़हरिया प्रखंड के चयनित अभ्यर्थियों ने डीपीओ स्थापना कार्यालय में शनिवार को जमकर हंगामा किया। इससे डीपीओ स्थापना के कक्ष व कार्यालय परिसर में अफरातफरी रही। मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला अभ्यर्थियों को समझाने का प्रयास किया लेकिन कोई मानने को तैयार नहीं था। इधर, हंगामा कर रहे अभ्यर्थियों ने आरोप लगाया कि बिना किसी कारण हम लोगों का नियोजन रद्द करने की साजिश डीपीओ स्थापना द्वारा रची जा रही है। पिछले चार माह के दौरान दर्जनों बार से भी अधिक डीईओ मिथिलेश कुमार व डीपीओ स्थापना राजेन्द्र सिंह से मिला है। बड़हरिया प्रखंड के नियोजन को विचार कर एनआईसी पोर्टल पर नाम चढ़ाने का अनुरोध किया गया, लेकिन डीपीओ स्थापना अब-तक केवल दिगभ्रमित करने का कार्य कर रहे हैं। अभ्यर्थियों ने आरोप लगाया कि डीपीओ स्थापना हम लोगों का भविष्य बर्बाद करने पर तुले हैं। जानबूझकर पिछले व तीसरे चरण में भी नियोजन से हम लोगों को वंचित रखा जा रहा है। हंगामा कर रहे चयनित अभ्यर्थी अपने नियोजन की मांग कर रहे थे, जबकि डीपीओ स्थापना नए सिरे से नियोजन की बात कह रहे थे। अभ्यर्थियों ने डीपीओ स्थापना कार्यालय द्वारा नियोजन में धांधली की गई है, बड़हरिया नियोजन इकाई द्वारा नहीं। कहा कि जब नियोजन इकाई काउंसलिंग के बाद पत्र भेजा कि भारी अनियमितता हुई है तो आपने किस आधार पर कागजात को जमा कराया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
metra hospital

डीएम से 32 अभ्यर्थियों ने की शिकायत

बड़हरिया प्रखंड नियोजन इकाई में हुई गड़बड़ी की शिकायत डीएम अमित कुमार पांडेय से प्रखंड के 32 शिक्षक अभ्यर्थियों ने की है। शनिवार को प्रखंड मुख्यालय पहुंचे डीएम से भी अभ्यर्थियों ने इसकी शिकायत की। डीएम से इस संदर्भ में ठोस आश्वासन नहीं मिलने पर नाराजगी जाहिर की। इधर, प्रखंड में 10 अगस्त को शिक्षकों का नियोजन जीएम हाई स्कूल परिसर में अधिकारियों की उपस्थिति में किया गया था। शिक्षक अभ्यर्थियों ने बताया कि नियोजन के दौरान सभी मानकों को पूरा करते हुए 32 शिक्षकों का चयन किया गया। लेकिन उसके अगले ही दिन शिक्षकों को बताया गया कि रोस्टर में गड़बड़ी हो गई है। इस कारण से नियोजन सूची आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड नहीं की सकती। उसके बाद से शिक्षक अभ्यर्थियों ने सभी जिम्मेदार अधिकारियों के दरवाजे को खटखटाया लेकिन समस्या का हल नहीं हो सका। बताया कि इसकी शिकायत सचिवालय व मुख्यमंत्री के जनता दरबार में की जाएगी। शिक्षक अभ्यर्थी सपना कुमारी, शिक्षिका सपना सिंह, गरिमा कात्यानी,किरण कुमारी , विनीता कुमारी, ज्योति कुमारी, नीरज कुमार, सोनू मिश्रा, महफूज आलम, उज्जवल कुमार समेत अन्य मौजूद थे।

क्या कहते डीपीओ

डीपीओ स्थापना राजेन्द्र सिंह ने बताया कि बड़हरिया शिक्षक नियोजन में सामान्य वर्ग में एक से पांच तक के नियोजन में गड़बड़ी हुई है। गड़बड़ी करने वाले दबाव बनाने के लिए कार्यालय में आकर हंगामा किए हैं ताकि इसी नियोजन में रख लिया जाए। विभाग का क्लीयर गाइड लाइन है कि रोस्टर व पेपर में छेड़छाड़ करने वालों का नियोजन रद्द कर नए सिरे से नियोजन की प्रक्रिया अपनानी है। बड़हरिया बीडीओ ने काउंसलिंग में भयंकर अनियमितता का पत्र भेजा गया था। अब शिक्षक नियोजन प्रक्रिया के तहत तृतीय चक्र में काउंसलिंग की तिथि व स्थल का निर्धारण कर दिया गया है। जो अंतिम मेधा सूची बनी थी उसी के अनुसार तीसरे चरण में नियोजन की प्रक्रिया अपनाई जायेगी।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here