मवेशियों से भरा कंटेनर पलटा, चार मवेशियों की मौत

0
container accident in siwan

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के गुठनी थाना क्षेत्र के देवरिया गांव में रविवार को मवेशियों से भरा एक कंटेनर सड़क के किनारे पलट गया,जिसमें लगभग 40 बैल लदे थे। आश्चर्य की बात यह है कि सभी बैलों के चारों पैर, मुंह और कई जगहों पर प्लास्टिक की रस्सी से बांध कर रखा गया था। इसकी जानकारी लोगों को कंटेनर पलटने के बाद हुई। लगभग 30 फुट लंबे कंटेनर में 40 मवेशियों को ठूंसकर भरकर भेजा गया था। स्थानीय लोगों ने बताया कि पुलिस कंटेनर के पीछे-पीछे जा रही थी। पुलिस के भय से ही कंटेनर का ड्राइवर तेजी से भाग रहा था। कंटेनर के सामने अचानक एक भैंस के आ जाने के कारण कंटेनर चालक ने गाड़ी को सड़क के किनारे उतार दिया, लेकिन इसी बीच कंटेनर अनियंत्रित होकर पलट गया। कंटेनर के रुकते ही स्थानीय ग्रामीणों के सहयोग से कंटेनर को खोला गया तो उसमें लगभग 40 बैल दिखे। बैलों की स्थिति देखते ही पुलिस और ग्रामीण मवेशियों को सुरक्षित बाहर निकलने में जुट गए। लगभग दो घंटे की मशक्कत के बाद जेसीबी और ग्रामीणों के सहयोग से सभी मवेशियों को बाहर निकाला गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

इधर घटना के बाद गाड़ी में सवार कई पशु तस्कर भाग निकले लेकिन एक पशु तस्कर को गिरफ्तार कर लिया गया। बाद में गुठनी थानाध्यक्ष दिलीप कुमार और दरौली थानाध्यक्ष जयनारायण राम ने मौके पर पहुंचकर कंटेनर को अपने कब्जे में ले लिया। स्थानीय लोगों में समरजीत यादव, नरेंद्र वर्मा, जुगनू वर्मा, विजय पटेल, संदीप कुशवाहा मुकुल तिवारी, चंद्रशेखर सिंह, रंजन राय, दीपक वर्मा समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे। वहीं ग्रामीणों की माने तो तकरीबन 10 मवेशियों की दबने से मौत हो गई थी। खबर प्रेषण तक मवेशियों को निकालने का काम जारी थी। घटना के बाद से गाड़ी चालक फरार है। मामले में थानाध्यक्ष ने बताया कि गाड़ी संख्या यूपी 78 सीएन 0849 के कंटेनर से मवेशियों को बाहर निकाल कर ग्रामीणों के जिम्मेनामा पर सौंप दिया गया, वहीं चार मवेशियों की मौत हो गई थी। मामले में पकड़ा गया तस्कर यूपी के औड़िहार जिले के अजीतमल थाना क्षेत्र के दलेल नगर निवासी बहाबुद्दीन का पुत्र इकबाल बताया जाता है। पूछने पर उसने बताया कि यूपी से पशुओं की तस्करी कर उन्हें छपरा ले जा रहे थे। पकड़े गए पशु तस्कर के खिलाफ स्थानीय थाना में प्राथमिकी दर्ज कर जेल भेजने की तैयारी चल रही थी।