बच्चों ने जागरूकता रैली निकालकर दिया नशा मुक्ति का संदेश

0
nasha mukti diwash

परवेज अख्तर/सिवान : शहर समेत प्रखंड मुख्यालयों में सोमवार को नशा मुक्ति दिवस पर विभिन्न विद्यालयों के बच्चों द्वारा प्रभात -फेरी निकालकर लोगों को जागरूक किया गया। इसके साथ ही नशा मुक्त करने का भी संकल्प लिया गया। नगर में सभी विद्यालय के बच्चों ने समाहरणालय गेट से प्रभातफेरी निकाली जो शहर के विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण कर नशामुक्त समाज बनाने का संदेश देती हुई गुजरी। इसके साथ ही प्रखंड मुख्यालय व ग्रामीण क्षेत्र के विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने भी प्रभात-फेरी निकालकर लोगों को नशा मुक्ति का संदेश दिया। प्रभात-फेरी में शामिल बच्चे भ्रमण के दौरान अब ना शराब पिउंगा, पूरा जीवन जीऊंगा, जैसे नारे लगाते हुए लोगों को नशा मुक्त समाज बनाने की अपील कर रहे थे। जिलाधिकारी रंजिता व एसपी नवीनचंद्र झा ने संयुक्त रूप से समाहरणालय परिसर स्थित सभागार में अपने पदाधिकारियों के साथ एक शपथ लिया कि मैं निष्ठापूर्वक संकल्प लेता हूं /लेती हूं कि शराब का सेवन नहीं करुंगा/करुंगी। क्योंकि शराब स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। साथ ही दूसरे लोगों को भी शराब से दूर रहने के लिए प्रेरित करुंगा/करुंगी। वहीं एसपी नवीनचंद्र झा व एएसपी कांतेश कुमार मिश्रा ने पुलिस लाइन मैदान में जिले के सभी थानाध्यक्षों व पुलिस पदाधिकारियों को शराब से दूर रहने की शपथ दिलाई। इसके बाद नशा मुक्ति दिवस के अवसर पर लाइव वेबकास्टिंग के माध्यम से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का संदेश प्रसारित किया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
vigyapann
ads

नशा छोड़े व जिंदगी से नाता जोड़े : काराधीक्षक

नशा विमुक्ति दिवस के अवसर पर सोमवार को मंडलकारा में परफेक्ट विजन के तत्वावधान में पुरुष व महिला बंदियों के बीच जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए काराधीक्षक राकेश कुमार ने कहा कि किसी भी तरह का नशा शारीरिक, नैतिक, पारिवारिक, सामाजिक व धार्मिक दृष्टिकोण से नुकसान दायक एवं निषिद्ध है। उन्होंने कहा कि नशे के दुष्प्रभाव से आने वाली कई पीढ़ियां कुप्रभावित होती हैं। काराधीक्षक ने बंदियों से नशा छोड़ने व जिंदगी से नाता जोड़ने की अपील की। सचिव मनोज मिश्र ने नशे से राज्य में हो रहे आर्थिक नुकसान के गणित को समझाते हुए कहा कि सिगरेट पर प्रत्येक माह औसतन प्रति व्यक्ति 230 रुपये व 43 रुपये बीड़ी पर व्यय होता है। यह स्थिति बिहार जैसे कम आय वाले राज्य के लिये काफी चिंतनीय है। साथ ही बताया कि सूबे में जर्दा, पान-मसाला, सुगंधित सुपारी, तंबाकू का निर्माण, भंडारण,परिवहन, वितरण, प्रदर्शन, विक्रय व क्रय पुर्णत: प्रतिबंधित व दंडनीय अपराध है। शहर के दंत रोग विशेषज्ञ डा. मुमताज हाशमी ने बंदियों को नशे के दुष्प्रभाव के बारे में बताते हुए कहा कि इससे कई तरह जानलेवा बीमारियां पैदा होती है। उन्होंने यह भी बताया कि इससे पुरूषों में नपुंसकता व महिलाओं में प्रजनन क्षमता में कमी आती है। डा. सौरभ कुमार ने बंदियों को नशा छोड़ने के विभिन्न तरीकों व तकनीक से अवगत कराया। कार्यक्रम के समापन सत्र में करीब पांच सौ बंदियों को नशा छोडने का संकल्प दिलाया।nasha muktiहुसैनगंज थाना परिसर में थानाध्यक्ष अरुण कुमार सिंह की अध्यक्षता में समारोह आयोजित कर मद्य निषेध की शपथ ली गई। इस मौके पर एसआई ध्रुव सिंह, पुअनि रामविचार राम, राकेश कुमार सिंह, सत्येंद्र कुमार सिंह, कुंदन कुमार, जहांगीर खान, नागेंद्र कुमार सिंह समेत सभी सिपाही एवं चौकीदार उपस्थित थे। आंदर प्रखंड के कशिला पचबेनिया पंचायत की मुखिया कुमारी किरण, उप मुखिया शत्रुध्न दुबे उर्फ मालिक दुबे, अंतर्राष्ट्रीय ब्राह्मण महासंगठन के जिलाध्यक्ष शेषनाथ द्विवेदी टिंकू, थाना परिसर में थानाध्यक्ष परशुराम सिंह, महाराणा प्रताप महाविद्यालय अर्कपुर में निदेशक सह सिविल इंजीनियर राणा रविकेश रंजन, उत्क्रमित मध्य विद्यालय उच्च विद्यालय के प्रचार्य राममनोहर पाठक, जेपीएस पब्लिक स्कूल भवराजपुर आंदर में प्राचार्य विनोद कुमार दूबे, श्रीजानकी संस्कृत प्राथमिक, मध्य, उच्च सह महाविद्यालय गुरुकुल बरवां में प्राचार्य विजय पाठक उर्फ ददन पाठक, राजकीय मध्य विद्यालय आसांव में प्राधानाध्यापक जाहिद हुसैन अंसारी, अर्कपुर पंचायत में मुखिया इना बैठा, पतार पंचायत में मुखिया कृष्णावती देवी की अध्यक्षता में नशा विमुक्ति दिवस के अवसर पर प्रभातफेरी निकालकर लाेगों को जागरूक किया गया। भगवानपुर हाट प्रखंड कार्यालय परिसर में बीडीओ डा. अभय कुमार ने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को मद्य निषेध का पालन करने की शपथ दिलाई। इस अवसर पर बीडीओ ने शराब का सेवन नहीं करने, शराब बेचने एवं सेवन करने वालों के खिलाफ प्रशासन को सूचित करने का आह्वान किया। उन्होंने शराब को स्वास्थ्य एवं धन, विवेक को नष्ट करने का पदार्थ बताया। थाना परिसर में थानाध्यक्ष राकेश मोहन के नेतृत्व में पुलिसकर्मियों को शपथ दिलाई गई। मैरवा नशा मुक्ति जागरूकता के लिए मैरवा प्रखंड में प्रभात फेरी निकाली गई। विद्यालय में शिक्षकों और बच्चों ने नशा नहीं करने की शपथ ली। वहीं प्रखंड कार्यालय में कर्मियों को प्रखंड विकास पदाधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह ने शपथ दिलाई। उत्क्रमित मध्य विद्यालय धमौर, धरहरा, बभनौली, लेभरी, प्राथमिक विद्यालय परसिया, भोपतपुर समेत विभिन्न विद्यालयों के बच्चों ने हाथों में तख्तियां लेकर विद्यालय पोषक क्षेत्र में प्रभातफेरी निकाली और नशा मुक्ति जागरूकता के नारे लगाए। रघुनाथपुर प्रखंड मुख्यालय सहित ग्रामीण इलाके में नशा मुक्ति दिवस के मौके पर सरकारी कर्मियों व स्कूली बच्चों ने शपथ ली। वही प्रखंड मुख्यालय में बीडीओ संतोष कुमार मिश्र के नेतृत्व में, थाना परिसर में थाना प्रभारी राकेश कुमार व सभी स्कूलों के प्रधानाध्यापकों ने नशा से दूरी बनाने की शपथ दिलाई। हसनपुरा प्रखंड परिसर मे प्रखंड विकास पदाधिकारी दीपक कुमार सिंह के नेतृत्व में प्रखंड के सभी कर्मचारियों को शराब नहीं पीने की शपथ दिलाई। शपथ के क्रम में सभी ने प्रण लेते हुए कहा कि हम शराब नहीं पीएंगे और न ही किसी को पीने की सलाह देंगे। मौके पर सभी पंचायत सचिव, विकास मित्र, आवास सहायक, स्वच्छताग्राही, राजस्व कर्मचारी, किसान सलाहकार आदि मौजूद थे। पचरुखी प्रखंड परिसर में नशा मुक्ति दिवस पर प्रखंड विकास पदाधिकारी डा. मो. इस्माईल अंसारी, सीआई शम्भुनाथ चौधरी, नाजीर बाबूचंद रजक, ब्लाक सहायक उपेन्द्र कुमार महतो, धन्नजय कुमार, अंचल नाजीर विरेन्दर प्रसाद, अभिषेक कुमार ने नशा मुक्ति की शपथ ली।

निबंध व चित्रकला प्रतियोगिता में सफल प्रतिभागियों को किया सम्मानित

नशा विमुक्ति दिवस पर सोमवार को समाहरणालय परिसर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी रंजिता ने निबंध व चित्रकला प्रतियोगिता में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले बच्चों को सम्मानित किया। उत्पाद अधीक्षक ने बताया कि रविवार को नशा मुक्ति कार्यक्रम को ले चित्रकला व निबंध को ले प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। जिसमें निबंध प्रतियोगिता में वीएम उच्च विद्यालय के कक्षा नवम के छात्र सुमित कुमार को प्रथम, अभिषेक कुमार को द्वितीय व डीएवी उच्च विद्यालय के अभिषेक कुमार को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ। वहीं चित्रकला प्रतियोगिता में आर्यकन्या बालिका उच्च विद्यालय की छात्रा सिद्धि कुमारी ने प्रथम, इस्लामिया हाई स्कूल के दीपक कुमार ने द्वितीय व आयुष प्रजापति ने तृतीय स्थान प्राप्त किया था। जिसे कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी रंजिता ने पुरस्कार देकर सम्मानित किया।