सिवान के 1788 विद्यालयों व 2972 आंगनबाड़ी केंद्रों के बच्चों को मिलेगा शुद्ध नल का पानी

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं से सरकारी विद्यालय व आंगनबाड़ी केंद्रों के बच्चों को काफी लाभ मिल रहा है। सरकार द्वारा बच्चों को विद्यालय तक लाने के लिए छात्रवृत्ति से लेकर पोशाक के अलावा पुस्तक की राशि भी दी जा रही है। इसी क्रम में अब जिले में स्थित प्राथमिक व मध्य विद्यालय के अलावा आंगनबाड़ी केंद्रों बच्चों को चापाकल के पानी की जगह नल का जल पहुंचाने की कवायद भी शुरू हो गई है। नल का जल पहुंचाने का कार्य जिला पंचायती राज विभाग व जिला लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग द्वारा किया जा रहा है। पंचायती राज विभाग पदाधिकारी राजकुमार गुप्ता ने बताया कि जिले के 1788 विद्यालय व 2972 आंगनबाड़ी केंद्रों में नल का जल पहुंचाया जाएगा। वहीं शेष विद्यालयों व आंगनबाड़ी केंद्रों में लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग द्वारा कार्य कराया जाएगा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

प्राथमिक विद्यालयों में दिए जाएंगे पांच कनेक्शन :जिला पंचायती राज विभाग कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार प्राथमिक विद्यालयों में पांच कनेक्शन दिए जाएंगे। एक कनेक्शन किचन में, एक-एक कनेक्शन महिला व पुरुष शौचालय में और दो कनेक्शन पीने के पानी के लिए होगा। वहीं, माध्यमिक विद्यालयों में सात कनेक्शन लगेगा, जबकि आंगनबाड़ी केंद्रों में तीन कनेक्शन लगेगा। आवासीय इलाकों में जो स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र हैं, वहां वार्डों में हुई बोरिग से पानी पहुंचाया जाएगा, जबकि आवासीय इलाकों के बाहर के स्कूलों में, जहां वार्डों से पानी पहुंचने में दिक्कत होगी, वहां स्कूल के चापाकल में मोटर लगाकर स्कूल के अंदर तक पानी पहुंचाया जाएगा। स्कूल के ऊपर टंकी बैठाई जाएगी।

क्या कहते हैं जिम्मेदार

शामिल सात निश्चय योजना के अंतर्गत नल जल योजना से सरकारी विद्यालयों व आंगनबाड़ी केंद्रों को पेयजल मुहैया कराया जाएगा। इसको लेकर कार्य भी शुरू कर दिया गया है। बहुत जल्द ही सभी विद्यालयों व आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों को पीने के लिए चापाकल की जगह नल का शुद्ध जल मिलने लगेगा। राजकुमार गुप्ता,

जिला पंचायती राज पदाधिकारी, सिवान