मुख्यमंत्री ग्रामीण नल-जल योजना में दोषियों पर करें कार्रवाई: प्रभारी मंत्री

0
parbhar mantry

परवेज अख्तर/सिवान: कलेक्ट्रेट के सभागार में प्रभारी मंत्री प्रमोद कुमार ने सभी विभागों की समीक्षा बैठक शनिवार को की। इस दौरान सात निश्चय योजना की बिंदुवार समीक्षा की। मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल योजना के तहत जिले में हो रहे कार्य की गुणवत्ता पर जोर दिया। इस योजना के तहत कार्य में लापरवाही बरतने वाले दोषियों पर कार्रवाई का निर्देश दिया। उपविकास आयुक्त सुनील कुमार ने बैठक में बताया कि इस योजना के तहत राशि उठाकर कार्य नहीं कराने वाले 12 दोषियों पर एफआइआर की जा चुकी है। शेष दोषियों पर एक सप्ताह के अंदर कार्रवाई की जाएगी। मंत्री ने प्रधानमंत्री आवास योजना में संतुष्टी जाहिर की तो इंदिरा आवास योजना में तेजी लाने को कहा। उन्होंने कहा कि इस योजना में राशि उठाकर आवास का कार्य नहीं पूरा कराने वाले लाभुकों से राशि वसूली की कार्रवाई की जाए। इसके अलावा जिले में दो जगहों पर इंजीनियरिंग व मेडिकल कॉलेज खोलने का प्रस्ताव है, जो भूमि उपलब्ध नहीं होने के चलते अधर में लटका हुआ है। इसको लेकर मंत्री ने एडीएम विधुभूषण चौधरी को शीघ्र भूमिका चयन कर प्रस्ताव विभाग को भेजने की बात कही। ताकि जिले में दोनों कॉलेजों का भवन निर्माण कार्य शुरू हो सके। बैठक में एमएलसी शिवप्रसन्न यादव ने दरौंदा प्रखंड में पीएचईडी के द्वारा लगाए गए प्लास्टिक के नल, टावर आदि खराब होने की शिकायत पर विभाग ने कहा कि लोहे का नल लगाने के लिए टेंडर किया जा चुका है। उन्होंने कलेक्ट्रेट परिसर सहित सार्वजनिक शौचालयों की साफ-सफाई व रख-रखाव के लिए किसी एजेंसी को लगाने की बात कही। इसपर मंत्री ने नगर परिषद को शौचालयों की साफ-सफाई कराने का निर्देश दिया। बैठक में सांसद ओमप्रकाश यादव, डीएम रंजिता, विधायक हेमनारायण साह सहित जिले के विभिन्न विभागों के अधिकारी शामिल थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal