सिवान में 887 में से 607 स्वास्थ्य कर्मियों को दिया गया कोरोना का टीका

0

परवेज अख्तर/सिवान: कोरोना महामारी से बचाव को लाए गए स्वदेशी टीकाकरण का शुभारंभ शनिवार को जिले के आठ सरकारी स्वास्थ्य संस्थान व दो निजी स्वास्थ्य संस्थान समेत 10 केंद्रों पर जिलाधिकारी अमित कुमार पांडेय, एडीएम रमण कुमार सिन्हा, डीडीसी दीपक कुमार की देखरेख में हुआ। टीकाकरण से पूर्व वेब कॉस्टिग के माध्यम से टीका को लेकर चयनित लाभुकों को प्रधानमंत्री द्वारा दिए जा रहे संबोधन को सुनाया गया। प्रधानमंत्री के संबोधन के बाद टीकाकरण का कार्य शुरू किया गया। सदर अस्पताल में पहला टीका रात्रि प्रहरी विजय बांसफोर को लगाया गया। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार सभी दस केंद्रों पर शनिवार को 887 स्वास्थ्य कर्मियों व आइसीडीएस कर्मियों को टीकाकरण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। इसमें से 607 कर्मियों का ही आच्छादन किया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

इन केंद्रों पर इतने कर्मियों को लगाया गया टीका :

डीआईओ कार्यालय से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार सदर अस्पताल परिसर में बनाए गए टीकाकरण केंद्र सहित सभी आठ केंद्रों पर जहां 100-100 लोगों को टीकाकृत करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। वहीं साईं मल्टीस्पेशियलिटी सेंटर में 55 व आदर्श मेटरनिटी सेंटर में 32 लोगों को टीकाकरण करना था। सदर अस्पताल में 58, महाराजगंज अनुमंडलीय अस्पताल केंद्र में 64, बसंतपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में 55, दरौली प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में 50, दारौंदा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में 100, गुठनी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में 62, हुसैनगंज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में 52, हसनपुरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में 80, साईं मल्टीस्पेशियलिटी सेंटर में 55 व आदर्श मेटरनिटी सेंटर में 33 लोगों का टीकाकरण किया गया।

इनको दिया गया कोरोना का पहला टीका :

सदर अस्पताल व दो निजी हॉस्पिटल सहित ग्रामीण क्षेत्र के अन्य सात सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में टीकाकरण को लेकर बूथ बनाया गया था। इन बूथों पर कोरोना प्रोटोकॉल के तहत वैक्सीन लगाई गई। सिविल सर्जन डा. यदुवंश कुमार शर्मा ने बताया कि सदर अस्पताल परिसर में बनाए गए टीकाकरण केंद्र पर रात्रि प्रहरी विजय बांसफोर को पहला टीका लगाया गया। इसके साथ ही आइएमए के जिला सचिव नेत्र रोग विशेषज्ञ डा. शरद चौधरी व जिलाध्यक्ष डा. शशिभूषण सिन्हा को टीका लगाया गया। वहीं दूसरी ओर महाराजगंज अनुमंडलीय अस्पताल केंद्र पर ग्रामीण चिकित्सक डा. वजीर आलम, बसंतपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर सफाईकर्मी चंद्रिका बांसफोर, दरौली प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर ममता उर्मिला देवी, दारौंदा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर डाटा ऑपरेटर अभिषेक कुमार, गुठनी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर प्रधान लिपिक आनंद कुमार गुप्ता, हुसैनगंज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर आशा फैसिलिटेटर रंजू देवी, हसनपुरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर सफाईकर्मी रामबाबू एवं दो निजी अस्पतालों साई स्पेशियलिटी सेंटर में कर्मी मंजू देवी तथा आदर्श मेटरनिटी सेंटर में हड्डी रोग विशेषज्ञ डा. रामाजी चौधरी को कोविड 19 का पहला टीका लगाया गया। इसके बाद मेटरनिटी सेंटर की स्त्री रोग विशेषज्ञ डा. संगीता चौधरी को भी टीका लगाया गया।

कुछ डर तो कुछ अन्य कारणों से नहीं लिए टीका :

सिविल सर्जन डा. यदुवंश कुमार शर्मा ने बताया कि शनिवार को लक्ष्य के विरुद्ध 68 प्रतिशत स्वास्थ्यकर्मियों व आइसीडीएस कर्मियों को कोरोना का टीका लगाया गया। उन्होंने बताया कि इनमें से कुछ लोग जहां डर के कारण टीका नहीं ले पाए हैं, वहीं कुछ को सरकार द्वारा जारी किए गए गाइडलाइन का अनुपालन कराते हुए टीकाकृत नहीं किया गया है। इसमें कुछ अन्य बीमारी से ग्रसित लोग, गर्भवती व ज्यादा उम्र के लाभार्थी को टीकाकृत नहीं किया गया। ओवरऑल पहले दिन टीकाकरण का प्रतिशत बेहतर है।